500+ Best Dosti Shayari in Hindi and English | हिंदी दोस्ती शायरी

Best dosti shayari in Hindi The best collection of friendship shayari. Wish and share with your friend with best available quotes and images


500+ Best Dosti Shayari in Hindi and English | हिंदी दोस्ती शायरी,


Aapki Dosti Ki Ek Nazar Chahiye,
Dil Hai Beghar Usey Ek Ghar
Chahiye, Bas Yuhin Saath
Chalte Raho E Dost, Yeh
Dosti Humein Umar Bhar Chahiye!
__________________________________________

Nigahon Mein Aur Koyi Dosti Ke
Kaabil Na Raha, Is Kinaare Ka
Aur Koyi Saahil Na Raha, Chaand
Jaisa Dost Mila Hume Zameen
Par, Aasma Ka Chaand Bhi
Ab Deedar Ke Kaabil Nahi Raha.
__________________________________________

Aapki Aankhon Me Hume Mil Gayi
Panah, Chahe Samjho Dillagi Ya
Samjho Gunah, Bhale Hi Koi
Hume Deewana Karar De Hum
Ho Gaye Aapki Dosti Me Fanaah.
__________________________________________

Kisne Kaha Hai Hum Tumko
Bhul Gaye, Aai Dost Ye
Afva Kise Aur Ne Udaye
Hogi, Shaan Se Rahege Tere
Dil Me Itne Dino Me Kuch
To Jaga Banai Hoge.
__________________________________________

Khuda Ki Rahmat Saare Sansaar
Par Barse, Mere Hisse Ki Rahmat
Mere Dost Par Barse. A Khuda
Mujhe Kar Dena Pani, Agar
Meri Dosti Kabhi Pyas Se Tarse..
__________________________________________

Mohabbat Ka Pata Bataya Nahi
Jaata, Kisi Dost Ko Kabhi
Bhulaya Nahi Jaata, Aapko Rakha
Hai Dil Mein Saja Kar, Jisme
Har Kisi Ko Basaya Nahi Jaata!
__________________________________________

Aye Dost Humko Saath Itna Do Ke
Had Na Rahe, Magar Aitbaar Bhi
Itna Karna Ke Shaq Na Rahe,
Hamse Wafa Itni Karna Ke Kabhi
Bewafai Na Ho, Aur Dua Bus
Itni Karna Ke Kabhi Judai Na Ho.
__________________________________________

Kaun Kisi Se Chah Kar Door
Ho Jata Hai, Har Koi Pane
Halat Se Majboor Ho Jata
Hai, Ham Bas Itna Jante Hai
Ki Har Rishta Moti Aur
Dost Kohinoor Ho Jata Hai.
__________________________________________

वो रूठ्कर बोला तुम्हे 
सारी शिकायते हमसे ही क्यू हैं … 
हमने भी सर झुकाकर बोल दिया की 
हमे सारी उम्मीदे भी तो तुमसे ही हैं ..
__________________________________________

अच्छा दोस्त तकिये के जैसा होता है
 मुश्किल में सीने से लगा सकते हैं, .
 दुःख में उसपे रो सकते हैं, .
 खुशी में गले लगा सकते हैं 
और . . और . . . और 
गुस्से में लात भी मार सकते हैं.
__________________________________________


स्कूल की लाइफ 10+2 तक; 
कॉलेज की लाइफ पढ़ो जब तक; 
लव की लाइफ शादी तक; 
पर हमारी दोस्ती की लाइफ फरवरी 31 तक!

______________________________________________

उनका भरोसा मत करो, 
जिनका ख्याल वक्त के साथ बदल जाऐ । 
भरोसा उनका करो जिनका ख्याल तब भी
 वैसा ही रहे जब आपका वक्त बदल जाऐ।
__________________________________________

बहुत दिनों से अपने दोस्तों को भूले हुए थे…..!! . . . 
पर कल रात…. . . . “STAR GOLD”
 पे “नमक हराम” देखी….!! . . . . . .
 साले सब के सब याद आ गए……
__________________________________________

ऐ दोस्त तुम पे लिखना शुरू कहा से करूँ? 
अदा से करूँ या हया से करूँ?
 तुम्हारी दोस्ती इतनी खुबसूरत है. 
पता नहीं की तारीफ जुबा से करू या दुआ से करूँ?….
__________________________________________

अगर किसी को अपना मित्र बनाना चाहते हो,
 तो उसके दोषों,
 गुणों और विचारों को अच्छी तरह परख लेना चाहिए।
__________________________________________

कौन होता है दोस्त? दोस्त वो जो बिन बुलाये आये, 
बेवजह सर खाए, जेब खाली करवाए, 
कभी सताए, कभी रुलाये,
 मगर हमेशा साथ निभाए.
__________________________________________

कुछ खोये बिना हमने पाया है,
कुछ मांगे बिना हमें मिला है, 
नाज़ है हमें अपनी तक़दीर पर जिसने 
आप जैसे दोस्त से मिलाया है .
__________________________________________

किसी रोज़ याद न कर पाऊँ तो 
खुदग़रज़ ना समझ लेना दोस्तों,
 छोटी सी इस उम्र मैं परेशानियां बहुत हैं..
__________________________________________

किसी जंगली जानवर की अपेक्षा एक कपटी और 
दुष्ट मित्र से ज्यादा डरना चाहिए, 
जानवर तो बस आपके शरीर को नुक्सान पहुंचा सकता है, 
पर एक बुरा मित्र आपकी बुद्धि को nuksanपहुंचा सकता है.
__________________________________________

कितना कुछ जानता होगा वो शख्स मेरे बारे में; 
मेरे मुस्कुराने पर भी
 जिसने पूछ लिया कि तुम उदास क्यूँ हो ?
__________________________________________

Aapki Dosti Ki Ek Nazar Chahiye,
Dil Hai Beghar Usey Ek Ghar
Chahiye, Bas Yuhin Saath
Chalte Raho E Dost, Yeh
Dosti Humein Umar Bhar Chahiye!
__________________________________________

Nigahon Mein Aur Koyi Dosti Ke
Kaabil Na Raha, Is Kinaare Ka
Aur Koyi Saahil Na Raha, Chaand
Jaisa Dost Mila Hume Zameen
Par, Aasma Ka Chaand Bhi
Ab Deedar Ke Kaabil Nahi Raha.
__________________________________________

Aaj Khushiyon Ki Koi Badhai
Dega, Nikla Hai Chand To
Dikhai Dega, Ae Dost Dosti
Ki Hai Humne Aapse, Aapka Ek
Aansu Bhi Ghira To Sunai Dega.
__________________________________________

Phoolo Ke Wadi Me Ho Basera
TeRahegHo Ghar Tera, Dua Ha Is
Dost Ke Tere Liye, Ke Tujh Se
Bhi Ho Khubsurat Naseeb Tera!!
__________________________________________

Dosti Ki Raah Me Bewafai Nahi
Hoti, Dosti Se Badkar Koi Khudai
Nahi Hoti, Mehsoos Hoti Hai
Kami Doston Ki, Lekin Yaadon
Ke Siva Koi Dawai Nahi Hoti.
__________________________________________

Yuhi Apne Doste Me Gehraai
Rhe, Chaahe Kyu Na Umar
Bhar Judaai Rhe, Ek He
Arzoo Dil Mein Samayi Rhe,
Saje Aapki Mehfil..
Bhale Yahan Tanhaai Rhe.!
__________________________________________

Sagar Me Dube To Kinare Nhi
Milte, Dil Jab Toote To Sahara
Nhi Milta, Kabhi Dosti Me
Gum Mat Dena, Qki Sachhe Dost
Zindagi Me Dubara Nhi Milte.!
__________________________________________

Hoto Ki Muskan Ka Ye Manjar
Na Milega, Moti Ye Kisi
Seep Ke Andar Na Milega,
Hamari Dosti Ko Oos Ki Bund
Na Samjhana, Dosti Ka Apko
Aisa Samandur Na Milega.
__________________________________________

Har Khushi Dil Ke Karib Nahi
Hoti, Zindagi Ghamon Se Dur
Nahi Hoti, Ae Dost Is Dosti
Ko Sanjokar Rakhna, Aisi Dosti
Har Kisi Ko Nasib Nahi Hoti.
__________________________________________

Apki Yad To Ek Anmol Pool Hai,
Hum Apko Bhul Jaye Ye Apki
Bhul Hai, Koi Yaad Hame
Kare Na Kare, Hum Dosto Ko
Nahi Bhulte Ye Hamara Rule Hai.
__________________________________________

Taron Ko Ginne Wale Hum
Na The, Akele Gungunane
Wale Hum Na The, Ye To
Apki Dosti Ne Aadat Laga
Di Warna Kisi Ko Itna
Yaad Karne Wale Hum Na The.
__________________________________________

Dost Kabhi Dosto Se Khafaa Nahi
Hote, Mil Jaye Dil To Kabhi
Juda Nahi Hote, Bhula
Dena Meri Kamiyon Ko, Kyu
Ki Insan Kabhi Khuda Nahi Hote.
__________________________________________

Shaam Ki Tanhai Mein Kho Na Jana,
Kisi Ki Masti Mein Doob Na
Jana, Milegi Zaroor Tumhe Bhi
Manzil Apni Manzil Ko Paa
Kar Is Dost Ko Bhul Na Janaa.
__________________________________________

Tu Chand Hai Dost Sarmaya Na
Kar, is Phool Jaise Chehro
Ko Murjhaya Na Kar, jab Tak
Ham Zinda Hain Tere Dost
Bankar, aye Dost To Kisi Bhi
Baat Se Ghabraya Na Kar.!
_________________________________________

जी करता है ये पल रोक लूं , 
दोस्तों के साथ बिताने को….. 
दोस्त ही तो होते हैं असली दौलत,
 यूँ तो पूरी ज़िन्दगी पड़ी है पैसे कमाने को…
__________________________________________

लिखा था राशि में आज खजाना मिल सकता है, 
कि अचानक गली में दोस्त पुराना दिख गया 
__________________________________________

सच्चा दोस्त वही है ….. 
जो सब लड़कियों को अपनी भाभी माने …
__________________________________________

सच्चे दोस्त हमे कभी गिरने नहीं देते … 
ना किसी कि नजरों मे, ना किसी के कदमों मे…
मोहब्बत तो फ़िर भी दिल से हो जाती है, 
“जिगर” चाहिए दोस्ती के लिए
__________________________________________

हम आज भी शतरंज़ का खेल अकेले ही खेलते हैं, 
क्योंकि दोस्तों के खिलाफ चाल चलना हमे आता नही…
__________________________________________

फूल बनकर मुस्कुराना जिन्दगी है
मुस्कुरा के गम भूलाना जिन्दगी है
मिलकर लोग खुश होते है तो क्या हुआ
बिना मिले दोस्ती निभाना भी जिन्दगी है
__________________________________________

साहिल पर खड़े-खड़े हमने शाम कर दी
अपना दिल और दुनिया आप के नाम कर दी
ये भी न सोचा कैसे गुज़रेगी ज़िंदगी
बिना सोचे-समझे हर ख़ुशी आपके नाम कर दी।
__________________________________________

दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है!
__________________________________________

दोस्ती का रिश्ता दो अंजानो को जोड देता है
हर कदम पर जिन्दगी को नया मोड देता है
सच्चा दोस्त साथ देता है तब
जब अपना साया भी साथ छोड देता है.
गुनाह करके सज़ा से डरते हैं
जहर पी के दवा से डरते हैं
दुश्मनों के सितम का खौफ नहीं
हम तो दोस्तों की वफ़ा से डरते हैं
__________________________________________

दोस्तों की कमी को पहचानते है हम
दुनियाँ के गमों को भी जानते है हम
आप जैसे दोस्तों के ही सहारे
आज भी हँस कर जीना जानते है हम
__________________________________________

एक हसीन पल की जरूरत है हमें
बीते हुए कल की जरूरत है हमें
सारा जहाँ रूठ गया हमसे
जो कभी ना रूठे ऐसे दोस्त की जरूरत है हमें
__________________________________________

कुछ सालों बाद ना जाने क्या होगा
ना जाने कौन दोस्त कहाँ होगा
फिर मिलना हुआ तो मिलेगे यादों में
जैसे सूखे हुए गुलाब मिले किताबों में.
__________________________________________

दिल टूटना सजा है महोब्बत की
दिल जोडना अदा है दोस्ती की
माँगे जो कुर्बानी वो है महोब्बत
जो बिन माँगे हो जाऐ कुर्बान
वो है दोस्ती हमारी
__________________________________________

क्युँ मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त
क्युँ गम को बांट लेते है दोस्त
ना रिश्ता खून का ना रिवाज से बंधा
फिर भी जिन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त
__________________________________________

दिल में तुम्हारे अपनी कमी छोड जाऐंगे
आँखों में इंतज़ार की लकीर छोड जाऐंगे
याद रखना मुझे ढूँढते फिरोगे एक दिन
जिन्दगी में देस्ती की कहानी छोड जाऐंगे.
__________________________________________

दोस्ती नज़रों से हो तो उसे कुदरत कहते हैं
सितारों से हो तो उसे जन्नत रहते है
हुसन से हो तो उसे महोब्बत कहते है
और दोस्ती आप जैसे दोस्त से हो तो उसे किस्मत कहते है
__________________________________________

नहीं बन जाता कोई अपना
यूँ ही दिल लगाने से
करनी पड़ती है दुआ
सच्ता दोस्त पाने के लिए रब से
रखना संभालकर ये याराना अपना
टूट ना जाए ये किसी के बहकाने से
__________________________________________

हर एक मोड पे हम गिरते थे 
किसी ने भी ना हमको उठाया था
तब तूने ही सनम एक उमीद का दिया जलाया था
अपने हर एक गम को छुपाकर मुझे जीना सिखाया था
__________________________________________

और कभी तुझे ना भूलने का इरादा करते हैं
मेरा रब मेरी नहीं किसी और
 की तो सुन ही लेगा ना
ये सोच कर हर इक से तेरे लिए दुआ करवाया करते हैं
__________________________________________

ये दोस्ती चिराग है जलाऐ रखना ये 
दोस्ती खुशबु है महकाऐ रखना
हम रहें हमेशां आपके दिल में
हमेशां इतनी जगह बनाऐ रखना
__________________________________________

दोस्त जो है साथ फिर डर किस बात का है भला
कभी कभी बस आप जुदा हो जाते हैं
हमारे दिल में बस दर्द इस बात का हैं
__________________________________________

वो मुझे चाहे मिल ही जाऐ जरूरी तो नहीं
ये कुछ कम है कि बसा है मेरी साँसो में
वो सामने हो मेरी आँखो के जरूरी तो नहीं
__________________________________________

नैनो मे बसे है ज़रा याद रखना
अगर काम पड़े तो याद करना
मुझे तो आदत है आपको याद करने की
अगर हिचकी आए तो माफ़ करना
__________________________________________

एक मुलाक़ात करो हमसे इनायत समझकर
हर चीज़ का हिसाब देंगे क़यामत समझकर
मेरी दोस्ती पे कभी शक ना करना
हम दोस्ती भी करते है इबादत समझकर.
__________________________________________

वफा के वादे वो सारे भूला गया चुप-चाप
वो मेरे दिल की दिवारें हिला गया चुप-चाप
ना जाने कौन सा वो बद-नसीब लम्हा था
जो गम की आग में मुझ को जला गया चुप-चाप
गम-ऐ-हयात के तपते हुए बया-बांन में
हमें वो छोड के चला गया चुप-चाप
मैं जिसको छुता हुँ वो जख्म देता
__________________________________________

क्यों इतना गमो से वास्ता रखने लगा हू
खुद से ही क्यों जुदा होने लगा हुँ। 
उस अनजान कि खातिर
जान पहचान वालो से
रकीबो सा रिश्ता रखने लगा हुँ। 
इतना जिद्दी तो वो खुदा भी नहीं जिसने बनाया है उसे
क्यों उसके लिए खुदा से रूठ रहा हुँ। 
बहुत दूर है वो समझता है दिल मेरा
__________________________________________

दस्तूर-ऐ-वफा हम इस तरहा निभाऐंगे
तुम रोज खफा होना
हम रोज मनाऐंगे
तेरी दोस्ती का सिला हम इस तरहा चुकाऐंगे
शादी हो तेरी और दुल्हन हम ले जाऐंगे
__________________________________________

मुस्कुरा के गम भुलाना जिन्दगी है
मिलकर लोग खुश होते हैं तो क्या हुआ
बिना मिले दोस्ती निभाना भी जिन्दगी है
__________________________________________

Kadmo Se Kadmon Ka Saath
Rakhna, Hamse Acha
Taluq Rakhna, Hamari
Dosti Rang Layegi, Bus
Tum Apna Mobile On Rakhna.
__________________________________________

Aansho Bahe To Ehshas Hota
Hai, Dosti Ke Bina Jeewan Udaas
Hota Hai, Umar Ho Aapki Chand
Jitni Lambi, Aap Jaisa Dost
Kaha Har Kisi Ke Paas Hota Hai.
__________________________________________

Zindagi K Tufano Ka Sahil Hai
Teri Dosti Dil Ke Armaano
Ki Manzil Hai Teri Dosti
Zindagi Bhi Ban Jayegi
Apni To Jannat Agar Maut
Aane Tak Sath De Teri Dosti.
__________________________________________

Umeend Ki Kasti Ko Koi Duba Nahi
Sakta, Roshni Kn Diye Ko Koi
Bujha Nahi Sakta, Humari Dosti
To Tajmhal Ki Tarah Hai,
Jise Dubara Koi Bana Nahi Sakta.
__________________________________________

Apki Dosti Ko Ahsaan Mante Ha,
Ise Nibhana Apna Iman Mante Ha,
Lekin Haum Vo Nahi,
Jo Dosti Me Apni Jaan De Denge,
Kyun Ki Dosto Ko Hi
 To Ham Apni Jaan Mante Ha!!!
__________________________________________

Dard Kya Hota Hai Batayenge
Kisi Roz, Kamaal Ki Ek
Gazal Sunayenge Kisi Roz,
Udne Do In Parindo Ko Azaad
Fizaon Me, Agar Hmare Dost
Huye To Laut Aayenge Kisi Roz.
__________________________________________

Intezar To Ab Bhi Tumhara
Kiya Karte Hain, Tumhare
Ane Ki Aas Kiya Karte
Hain, Hamari Dosti Hichkiyon
Ki Mouhtaj Nahi Dost,
Tumhe Sanso Ke Saath
Yaad Kiya Karte Hain..
__________________________________________

Zindagi Me Kuch Na Paa Sake
To Kya Gum Hai, Tere Jaisa
Dost Paya Ye Kya Kam Hai,
Ek Choti Se Jagha Jo Paaye
Hai Aap Ke Dil Me, Wo Kya
Kise TAJ MAHAL Se Kam Hai.!
__________________________________________

Ajnabi Galiyaon Se Hum Guzra
Nhi Karta, Dard-E-Dil Liya
Aur Diya Nhi Karte, Ye
Dosti Ka Rishta Sirf Tum Se
Hai.. Warna Itne SMS
Hum Kise Ko Kiya Nhi Karte!
__________________________________________

Kash Sach Yeh Mera Sapna Ho
Jaye, Jan Se Bhi Pyara Dost
Apna Ho Jaye, Khuda Humari
Dosti Sada Salamat Rakhe, Warna
Lafz-E-Hosti Hi Fana Ho Jaye.
__________________________________________

Rishta Dosti Ka Kisi Aur
Rishte Se Kam Nai, Mile Agar
Acha Dost To Kisi Baat Ka
Ghum Nahi, Dosti Mai Pyar
Hota Kabi Kam Nahi Is Liye
Tum Bin Hum, Hum Bin Tum Nahi.
__________________________________________

Tanhiyo Main Humea Yaad
Karoge, Mehfil Me Humko
Talassh Karoge, Jab Koi Na
Milega Humare Jisa Dost,
Tab Shayad Humare
Dosti Pe Naaz Karoge..!!
__________________________________________

Sache Hai Apne Dosti Aazma
Ke Dekhlo, Karke Yakeen
Hum Pe Kuch Farmaa Ke Dekhlo,
Badalta Nhi Sona Apna Rang
Kabhi, Chahe Jitne Marzi
Aag Me Jala Ke Dekhlo!
__________________________________________

Agar Itni Pyari Soch Tumhari
Na Hoti, Mulaqaat Yun Tumse
Hamari Na Hoti, Tadapte Rehte
Sachhe Dost Ke Liye, Agar
Dosti Tumse Hamari Na Hoti.
__________________________________________

Sitam Karo Ya Na Karo Hum Sikwa
Nahi Karte, Veerano Me Phool Kabhi
Khila Nahi Karte, Aur Itna Yaad
Rakhna Mere Dost, Ki Hum Jaise
Dost Bar  Bar Mila Nahi Karte.
__________________________________________

Ae Lekhne Wale Ek Farmaan Likh
De, Mere Dost Ke Takdeer Me
Uske Har Armaan Likh De, Na
Mile Use Kabhi Dard Zindagi
Main, Tu Chahe Mere
Zindagi Me Gam Tamam Lekh De.!
__________________________________________

Ae Lekhne Wale Ek Farmaan Likh
De, Mere Dost Ke Takdeer Me
Uske Har Armaan Likh De, Na
Mile Use Kabhi Dard Zindagi
Main, Tu Chahe Mere
Zindagi Me Gam Tamam Lekh De.!
__________________________________________

Kabhi Dil Ki Kamzori Bankar Reh
Jaati Hai, Kabhi Waqt Ki
Majburi Bankar Reh Jaati He,
Ye Dosti Wo Paani Hai, Jitna Bhi
Piyo Pyaas Adhuri Hi Reh Jaati Hai.
__________________________________________

Meri Dharkano Me Aap Ka
Hi Raz Hoga, Meri Bat Ka
Bas Yehi Andaz Hoga, Kabhi
Bewafaee Nahin Karte Hum
Dosti Me, Meri Dosti Pe
Aap Ko Hamesha Naz Hoga!!
__________________________________________

Ummidon Ka Silsila Kbhi
Kam Nhi Hota, Yaadon Ka
Musam Kbhi Khatam Nhi Hota,
Har Kadam Pe Chalte Hai Jo
Humdard Bankar, Wo Dost
Us Khuda Se Kam Nhi Hota.!
__________________________________________

Dost Ki Yad Se Badi Koi
Dolot Nahin Hoti, Sath Rehna
Hi Dost Ki Jarurat Nahin
Hoti. Duriyan Kar Deti Hai
Yado Ko Jinda, Warna Yadon
Ki Koi Kimat Nahin Hoti.
__________________________________________

Toofan Hai Zindagi To Sahil
Hai Tere Dosti, Safar Hai
Meri Zindagi To Manzil Hai
Tere Dosti, Muat Ke Baad Mujhe
Mil Jayege Jannat, Zindagi Bhar
Agr Rhe Kaayam Tere Dosti..!
__________________________________________

Dosti Ki Gehrai Judai Me Bhi
Hoti Hai, Baate To Hoti
Rehti Hai, Par Bina Baato
Ki Dosti Jab Jinda Rahe,
Tabhi Usme Sachai Hoti Hai.
__________________________________________

Intezar To Ab Bhi Tumhara
Kiya Karte Hain, Tumhare
Ane Ki Aas Kiya Karte
Hain, Hamari Dosti Hichkiyon
Ki Mouhtaj Nahi Dost,
Tumhe Sanso Ke Saath
Yaad Kiya Karte Hain..
__________________________________________

सवाल तेरे मेरे दर्मियान बाकी है
नही अभी तो नही खत्म ज़िन्दगी होगी
अभी तो मेरे कई इम्तिहान बाकी है ! 
सुबूत इसके सिवा दोस्ती का क्या दूँ मै
अभी तो चोट के गहरे निशान बाकी है !
 जो एक आसमाँ टूट भी गया है तो क्या
अभी तो सर पे कई आसमान बाकी है!!!!
__________________________________________

तनहा जब दिल होगा
आपको आवाज दिया करेंगे
रात को सितारों से आपका ज़िकर किया करेंगें
आप आऐं या ना आऐं हमारे ख्वाबो में
हम बस आपका इंतज़ार किया करेंगे
__________________________________________

→ अपनी_तो_एक_हि पेहचान_है.
हस्ता_चेहरा_शराबी_आंखे_
_ नवाबी_शान  और दोस्तो के लिये ,,,
__________________________________________

सोचा की दोस्त आपको युँ ही भूल जाऐगा
ये तो आदत है हमारी सताने की
वरना इतना प्यारा दोस्त कौन भूला पाऐगा
__________________________________________

निगाहें बदल गयी अपने और बेगाने की
तू न छोड़ना दोस्ती का हाथ
वरना तम्मना मिट जायेगी कभी दोस्त बनाने की ||
__________________________________________

हम ना रहेंगे तो हमें याद करोगे तुम भी
आज कहते हो हमारे पास वक्त नही
पर एक दिन मेरे लिए वक्त बर्बाद करोगे तुम भी
__________________________________________

दोस्ती सिर्फ पास होने का नाम नही
अगर तुम दूर रहकर भी हमें याद करो
इससे बड़ा हमारे लिए कोई इनाम नही
__________________________________________

तकदीर किसी भी वक्त बदल सकती है
होसला रखो इरादा ना बदलो
जिसे दिल से चाहते हो.
वो चीज कभी भी मिल सकती है
__________________________________________

प्यार की गज़लो को तराना मिल गया. 
आपकी दोस्ती ऐसी मिली दोस्त
जैसे खुदा की तरफ से कोई नज़राना मिल गया
__________________________________________

कहीं मर ना जाऊँ कफन सीला रखा है
दफन करने से पहले दिल निकाल लेना
कहीं वो ना जल जाऐ
जिसे दिल मे बसा रखा ह
__________________________________________

ऐसा नही की आप हमें याद नही आते
माना की सब रिश्ते निभाऐ नही जाते मगर 
जो दोस्त दिल मे बस जाते है
वो कभी भुलाऐ नही जाते
__________________________________________

दिल मैं में जिनको भी जगह देता हूँ 
खुद से ज़्यादा मैं उनका ख्याल रखता हूँ
    जैसे के तुम मेरे दोस्त.
__________________________________________

मह दोस्तों में तुम्हें सबसे अजीज मानते हैं
तेरी दोस्ती के साये में जिंदा हैं
हम तो तुझे खुदा का दिया हुआ तावीज मानते हैं
__________________________________________

लोग दौलत देखते हैं, हम इज़्ज़त देखते हैं,
लोग मंज़िल देखते हैं,
हम सफ़र देखते हैं,लोग दोस्ती बनाते हैं, 
हम उसे निभाते हैं.
__________________________________________

हर आईने में तेरी तस्वीर मुझे नजर आई है
लोग कहते हैं प्यार में निंद उड़ जाती है
हम ने निंदों में ही प्यार की दुनिया बनाई है
__________________________________________

लोग दौलत देखते हैं, हम इज़्ज़त देखते हैं,
लोग मंज़िल देखते हैं, हम सफ़र देखते हैं,
लोग दोस्ती बनाते हैं, हम उसे निभाते हैं.
__________________________________________

आओ ….. ताल्लुकात को कुछ और नाम दें,
ये दोस्ती का नाम तो बदनाम हो गया..
__________________________________________

हम वक्त गुजारने के लिए
दोस्तों को नही रखते,
दोस्तों के साथ रहने केलिए वक्त रखते है.
__________________________________________

सच्चे दोस्त हमे कभी गिरने नहीं देते,
ना किसी कि नजरों मे, ना किसी के कदमों मे.!!
__________________________________________

लोग पूछते हैं इतने गम में भी खुश क्युँ हो..
मैने कहा दुनिया साथ दे न दे.. मेरा दोस्त तो साथ हैं.
__________________________________________

एक बात हमेशा याद रखना दोस्तों
ढूंढने पर वही मिलेंगे जो खो गए थे,
वो कभी नहीं मिलेंगे जो बदल गए है.
__________________________________________

मेरे शब्दों को इतने ध्यान से ना पढ़ा करो दोस्तों,
कुछ याद रह गया तो.. मुझे भूल नहीं पाओगे!
__________________________________________

ऐ दोस्त मै तेरी खुशीयां बाटने शायद न आ सकुं,
पर ये वादा रहा,
जब गम आऐ तो खबर कर देना,
सारे के सारे ले जाउंगा.
__________________________________________

मिल जाती है कितनो को ख़ुशी,
मिट जाते हैं कितनो के गम,
मैसेज इसलिये भेजते है हम,
ताकि न मिलने से भी अपनी दोस्ती न हो कम.    
__________________________________________

एक जैसे दोस्त सारे नही होते,
कुछ हमारे होकर भी हमारे नहीं होते,
आपसे दोस्ती करने के बाद महसूस हुआ,
  कौन कहता है तारे ज़मीं पर नहीं होते.
__________________________________________

हमारे तो दामन मे काँटो के सिवा कुछ नहीं,
आप तो फूलों के खरीदार नजर आते हो,
जहा मे कितने दोस्त मिले,
पर सबसे अच्छे तो आप नजर आते हो.
__________________________________________

दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे,
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे,
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो,
वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे
__________________________________________

दूरियों से फर्क पड़ता नहीं,
बात तो दिलों कि नज़दीकियों से होती है,
दोस्ती तो कुछ आप जैसो से है,
वरना मुलाकात तो जाने कितनों से होती है.
__________________________________________

शायद फिर वो तक़दीर मिल जाये
जीवन के वो हसीं पल मिल जाये
चल फिर से बैठें वो क्लास कि लास्ट बैंच पे
शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाएँ
__________________________________________

किस हद तक जाना है ये कौन जानता है,
किस मंजिल को पाना है ये कौन जानता है,
दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो,
किस रोज़ बिछड जाना है ये कौन जानता है.!
__________________________________________

सबसे अलग सबसे न्यारे हो आप,
तारीफ कभी पुरी ना हो इतने प्यारे हो आप,
आज पता चला कि जमाना क्यों जलता है हमसे,
क्यों कि दोस्त तो आखिर हमारे हो आप
__________________________________________

कौन कहता है कि
दोस्ती बराबरी में होती है
सच तो ये है
दोस्ती में सब बराबर होते है..!!
__________________________________________

गुनाह करके सजा से डरते हैं,
ज़हर पी के दवा से डरते हैं,
दुश्मनों के सितम का खौफ नहीं हमें,
हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते है
__________________________________________

हर किसी कै किसमत मै ऐसा लिखा नही हौता
हर मंजिल मै तैरै जैसा दौस्त का पाता नही मिलता
मैरी तकादीर हौगी कुछ खास
वरना तैरै जैसा यार मुझै कहा मिलता.
__________________________________________

गुनाह करके सजा से डरते है,
ज़हर पी के दवा से डरते है.
दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमे,
हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते है.
__________________________________________

करनी है खुदा से गुजारिश,
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले,
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा,
या फिर कभी जिंदगी न मिले
__________________________________________

किसी रोज़ याद न कर पाऊं तो 
खुदगर्ज़ न समझ लेना दोस्तों,
दरसल छोटी सी इस उम्र में 
परेशानिया बहुत हैं,मैं भूला नहीं हूँ किसी को
 मेरे बहुत अच्छे दोस्त हैं ज़माने में,
बस थोड़ी ज़िन्दगी उलझ पड़ी है 
दो वक़्त की रोटी कमाने में
__________________________________________

देखी जो नब्ज मेरी,
हँस कर बोला वो हकीम,
जा जमा ले महफिल पुराने दोस्तों के साथ..
तेरे हर मर्ज की दवा वही है
__________________________________________

इश्क़ और दोस्ती मेरी ज़िन्दगी के दो जहाँ है
इश्क़ मेरा रूह तो दोस्ती मेरा इमां है
इश्क़ पे कर दूँ फ़िदा अपनी ज़िन्दगी
मगर दोस्ती पे तो मेरा इश्क़ भी कुर्बान है
__________________________________________

दोस्ती का शुक्रिया कुछ इस तरह अदा करू,
आप भूल भी जाओ तो मे हर पल याद करू,
खुदा ने बस इतना सिखाया हे मुझे
कि खुद से पहले आपके लिए दुआ करू..
__________________________________________

दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे,
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे,
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो,
वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे
__________________________________________

वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे,
तुम्हें भुलकर जिऊ यह खुदा न करे,
रहे तेरी दोस्ती मेरी जिन्दगानी बनकर,
यह बात और है जिन्दगी वफा न करे
__________________________________________

तू दूर है मुझसे और पास भी है,
तेरी कमी का एहसास भी है,
दोस्त तो हमारे लाखो है इस जहाँ में,
पर तू प्यारा भी है और खास भी है।
दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है,
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है,
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना,
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है…!!!
__________________________________________

ना जाने कब तुम आ कर
हमारे दिल मे बसने लगे,
तुम पहले दोस्त थे,
फिर प्यार,
फिर ना जाने कब ज़िंदगी बन गये…!!
__________________________________________

समंदर के लिए वो लहरे क्या जिसका कोई किनारा ना हो
तारो के लिए वो रात क्या जिसमे चाँद ना हो
हमारे लिए वो दिन ही क्या
जिस मे आप की याद ना हो
__________________________________________

एक पहचान हज़ारो दोस्त बना देती हैं,
एक मुस्कान हज़ारो गम भुला देती हैं,
ज़िंदगी के सफ़र मे संभाल कर चलना,
एक ग़लती हज़ारो सपने जला कर राख देती है.
__________________________________________

दिन हुआ है तो रात भी होगी,
हो मत उदास, कभी बात भी होगी,
इतने प्यार से दोस्ती की है,
जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी..
__________________________________________

ये दोस्ती का रिश्ता भी कितना अजीब होता है
दूरिया होते हुए भी दिल कितने करीब होता है
नही देखते हम रंग,जाति और हैसियत को
क्यों की ये सभी रिस्तो से ज़्यादा अजीज होता है
__________________________________________

गम को बेचकर खुशी खरीद लेगे,
ख्याबो को बेचकर जिन्दगी खरीदलेगें ,
होगी इम्तहान तो देखेगी दुनिया,
खुद को बेचकर आपकी दोस्ती खरीद लेगे..
__________________________________________

मेरे शब्दों को इतने ध्यान से
ना पढ़ा करो दोस्तों,
कुछ याद रह गया तो
मुझे भूल नहीं पाओगे!
__________________________________________

एक बात हमेशा याद रखना दोस्तों
ढूंढने पर वही मिलेंगे जो खो गए थे,
वो कभी नहीं मिलेंगे जो बदल गए है.
__________________________________________

लोग पूछते हैं
इतने गम में भी खुश क्युँ हो..
मैने कहा दुनिया साथ दे न दे
मेरा दोस्त तो साथ हैं.
__________________________________________

लोग रूप देखते है ,हम दिल देखते है ,
लोग सपने देखते है हम हक़ीकत देखते है,
लोग दुनिया मे दोस्त देखते है,
हम दोस्तो मे दुनिया देखते है.
__________________________________________

क्या कहे कुछ कहा नही जाता,
दर्द मीठा है पर रहा नही जाता,
दोस्ती हो गई इस कदर आपसे,
बिना याद किये बिना रहा नहीं जाता।
__________________________________________

दिन हुआ है तो रात भी होगी,
हो मत उदास कभी बात भी होगी,
इतने प्यार से दोस्ती की है,
जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी.
__________________________________________

तेरी दोस्ती की आदत सी पड़ गयी है मुझे,
कुछ देर तेरे साथ चलना बाकी है।
शमसान मैं जलता छोड़ कर मत जाना,
वरना रूह कहेगी कि रुक जा,
अभी तेरे यार का ल जलना बाकी है
.__________________________________________

भूलना चाहो तो भी याद हमारी आएगी,
दिल की गहराई मे हमारी तस्वीर बस जाएगी.
ढूढ़ने चले हो हमसे बेहतर दोस्त,
तलाश हमसे शुरू होकर हम पे ही ख़त्म हो जाएगी
__________________________________________

जिन्दगी जख्मो से भरी है,
वक्त को मरहम बनाना सीख लो,
हारना तो है एक दिन मौत से,
फिलहाल दोस्तों के साथ जिन्दगी जीना सीख लो..!!
__________________________________________

हमारे तो दामन मे काँटो के सिवा कुछ नहीं,
आप तो फूलों के खरीदार नजर आते हो,
जहा मे कितने दोस्त मिले,
पर सबसे अच्छे तो आप नजर आते हो..
__________________________________________

लोग दौलत देखते हैं,
हम इज़्ज़त देखते हैं,लोग मंज़िल देखते हैं,
हम सफ़र देखते हैं,लोग दोस्ती बनाते हैं,
हम उसे निभाते हैं.
__________________________________________

नफरत को हम प्यार देते है,
प्यार पे खुशियाँ वार देते है,
बहुत सोच समझकर हमसे कोई वादा करना,
ऐ दोस्त हम वादे पर ज़िन्दगी गुजार देते है।
__________________________________________

गम को बेचकर खुशी खरीद लेगे,
ख्याबो को बेचकर जिन्दगी खरीदलेगें ,
होगी इम्तहान तो देखेगी दुनिया,
खुद को बेचकर आपकी दोस्ती खरीद लेगे..
__________________________________________

हर किसी कै किसमत मै ऐसा लिखा नही हौता ..
हर मंजिल मै तैरै जैसा दौस्त का पाता नही मिलता..
मैरी तकादीर हौगी कुछ खास..
वरना तैरै जैसा यार मुझै कहाता.
__________________________________________

गुनाह करके सजा से डरते है,
ज़हर पी के दवा से डरते है.
दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमे,
हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते है.
__________________________________________

करनी है खुदा से गुजारिश,
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले,
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा,
या फिर कभी जिंदगी न मिले
__________________________________________

देखी जो नब्ज मेरी,
हँस कर बोला वो हकीम,
जा जमा ले महफिल पुराने दोस्तों के साथ..
तेरे हर मर्ज की दवा वही है
__________________________________________

दोस्ती का शुक्रिया कुछ इस तरह अदा करू,
आप भूल भी जाओ तो मे हर पल याद करू,
खुदा ने बस इतना सिखाया हे मुझे
कि खुद से पहले आपके लिए दुआ करू..
__________________________________________

अपनी दोस्ती का बस इतना सा उसूल है…
ज़ब तू कुबूल है तो तेरा सब कुछ कुबूल है….
कोन कहेता है की दोस्ती बराबरी वालो में होती है..
सच तो ये है की दोस्ती में सब बराबर होता है.
__________________________________________

लोग रूप देखते है ,हम दिल देखते है ,
लोग सपने देखते है हम हक़ीकत देखते है,
   लोग दुनिया मे दोस्त देखते है,
हम दोस्तो मे दुनिया देखते है.
__________________________________________

दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे,
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे,
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो,
वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे
__________________________________________

वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे,
तुम्हें भुलकर जिऊ यह खुदा न करे,
रहे तेरी दोस्ती मेरी जिन्दगानी बनकर,
यह बात और है जिन्दगी वफा न करे
__________________________________________

दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है,
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है,
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना,
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है…!!!
__________________________________________

एक पहचान हज़ारो दोस्त बना देती हैं,
एक मुस्कान हज़ारो गम भुला देती हैं,
ज़िंदगी के सफ़र मे संभाल कर चलना,
एक ग़लती हज़ारो सपने जला कर राख देती है.
__________________________________________

गुलाब खिलते रहे ज़िंदगी की राह् में,
हँसी चमकती रहे आप कि निगाह में.
खुशी कि लहर मिलें हर कदम पर आपको,
देता हे ये दिल दुआ बार–बार आपको.
__________________________________________

दिन हुआ है तो रात भी होगी,
हो मत उदास, कभी बात भी होगी,
इतने प्यार से दोस्ती की है,
जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी..
__________________________________________

किस हद तक जाना है ये कौन जानता है,
किस मंजिल को पाना है ये कौन जानता है,
दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो,
किस रोज़ बिछड जाना है ये कौन जानता है.!
__________________________________________

देखी जो नब्ज मेरी,
हँस कर बोला वो हकीम,
जा जमा ले महफिल पुराने दोस्तों के साथ,
तेरे हर मर्ज की दवा वही है.
__________________________________________

शायद फिर वो तक़दीर मिल जाये
जीवन के वो हसीं पल मिल जाये
चल फिर से बैठें वो क्लास कि लास्ट बैंच पे
शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाएँ ।
__________________________________________

दोस्ती अच्छी हो तो रंग़ लाती है
दोस्ती गहरी हो तो सबको भाती है
दोस्ती नादान हो तो टूट जाती है
पर अगर दोस्ती अपने जैसी हो
तो इतिहास बनाती है….
__________________________________________

करनी है खुदा से गुजारिश,
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले,
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा,
या फिर कभी जिंदगी न मिले।
__________________________________________

दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे,
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे,
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो,
वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे|
__________________________________________

मिलने आऐंगे आपसे खवाबो में
ज़रा रोशनी के दीये बुझा दीजीऐ
आब ओर नहीं होता इंतजार आपसे मुलाकात का
आपनी आँखों के पर्दे ज़रा गिरा दीजीऐ
__________________________________________

मुबारक हो आपको ये सुहानी रात
सपनो में होगी हमारी आपसे मुलाकात
युँ तो बहुत कुछ है कहने को लेकिन
सोचते है जब आप सामने आओगे तो क्या करेंगे बात
__________________________________________

चाँदनी रातों में कुछ भीगे ख्यालों की तरह
मैने चाहा है तुम्हें दिन के उजालों की तरह
गुजरे थे जो कुछ लम्हें तुम्हारे साथ
मेरी यादों में चमकते हैं वो सितारों की तरह
__________________________________________

कैसे बयां करू अलफाज़ नहीं हैं
दर्द का मेरे तुझे ऐहसास नही है
पुछते हो मुझसे क्या दर्द है.?
 मुझे दर्द ये ही की तु मेरे पास नही है
__________________________________________

क्युँ इक पल भी तुम बिन रहा नही जाता
तुम्हारा एक दर्द भी मुझसे सहा नही जाता
क्युँ इतना प्यार दिया है तुमने
की तुम बिन मुझ से जिया नही जाता
__________________________________________


ना जाने क्यों वो हमसे मुस्कुरा के मिलते हैं
अन्दर के सारे गम छुपा के मिलते हैं
जानते हैं आँखे सच बोल जाती हैं
शायद इसी लिए वो नज़र झुका के मिलतें हैं
__________________________________________

अपनी खुशीयां लुटा कर उस पे कुर्बान हो जाऊँ
काश कुछ दिन उसके शहर में महमान हो जाऊँ
वो अपना नायाब दिल मुझ को दे दें
और फिर वापस माँगे मै 
मुक्कर जाऊँ और बेईमान हो जाऊँ.
__________________________________________

हर सपना खुशी का पूरा नहीं होता
कोई किसी के बिना अधुरा नहीं होता
जो रोशन करता है सब रातों को
वो चाँद भी तो हर बार पूरा नहीं होता
__________________________________________

तारों में अकेले चाँद जगमगाता है
मुश्किलों में अकेला इन्सान डगमगाता है
काँटों से मत घबराना मेरे दोस्त
क्योंकि काँटों में ही एक गुलाब मुस्कुराता है
__________________________________________

वफा के बदले बेवफाई ना दिया करो
मेरी उमीद ठुकरा कर इन्कार ना किया करो
तेरी महोब्त में हम सब कुछ खो बैठे
जान चली जायेगी इम्तिहान ना लिया करो
__________________________________________

कोई रिश्ता नया या पुराना नहीं होता
जिन्दगी का हर पल सुहाना कितना होता
जुदा होना तो किस्मत की बात है
पर जुदाई का मतलब भूलाना नहीं होता
__________________________________________

वो कहते हैं दिल पे भरोसा इतना नहीं करते
हम कहते हैं महोब्बत में सोचा नहीं करते
वो कहते हैं नज़रों से दूर पर दिल के पास हुँ
हमने कहा सपनो से दिल को बहलाया नहीं करते
__________________________________________

तेरे गम को अपनी रूह में उतार लूँ
जिन्दगी तेरी चाहत में सवार लूँ
मुलाकात हो तुझ से कुछ इस तरह
तमाम उमर बस इक मुलाकात में गुजार लूँ
__________________________________________

मंजिलों से अपनी दूर ना जाना
रास्ते की परेशानियों से टूट ना जाना
जब भी जरूरत हो जिन्दगी में किसी अपने की
हम अपने हैं ये भूल ना जाना
__________________________________________

क्या नशा है इश्क आज तक समझ ना पाये हम
उन नशीली आँखों में कहीं हो ना जाऐं गुम
युँ तो इश्क समझ नहीं आता ना जाने क्या बला थी ये
कि जुदा होने पे उनकी ये आँखे हो गई है नम
__________________________________________

युँही बे सबाब ना फिरा करो
कोई शाम घर भी रहा करो
वो गज़ल की सच्ची किताब है
उसे छुपके-छुपके पड़ा करो
मुझे इश्तिहार सी लगती हैं
ये महोब्बतों की कहनीयाँ
जो सुना नहीं वो कहा करो
जो कहा नहीं वो सुना करो.
__________________________________________

नफरत को हम प्यार देते है
प्यार पे खुशियाँ वार देते है
बहुत सोच समझकर हमसे कोई वादा करना
  ऐ दोस्त हम वादे पर जिदंगी गुजार देते है.
सुबह होते ही जब दुनिया आबाद होती है
आँख खुलते ही आपकी याद आती है
खुशियों के फूल हो आपके आँचल में
ये मेरे होंठों पे पहली फ़रियाद होती है।
__________________________________________

रिश्तों की यह दुनिया है निराली
सब रिश्तों से प्यारी है दोस्ती तुम्हारी
मंज़ूर है आँसू भी आखो में हमारी
अगर आजाये मुस्कान होंठ पे तुम्हारी।
__________________________________________

इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है
इश्क मेरी रुह
तो दोस्ती मेरा ईमान है
इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी
पर दोस्ती पर
मेरा इश्क भी कुर्बान है
छोटे से दिल में गम बहुत है
जिन्दगी में मिले जख्म बहुत हैं
मार ही डालती कब की ये दुनियाँ हमें
कम्बखत दोस्तों की दुआओं में दम बहुत है.
__________________________________________

दीयो के लीये बाती जैसे अन्धो के लीये
 लाठी जैसे
 प्यासे के लीये पानी जैसे बच्चे के लीये 
नानी जैसे
 लेखक के लीये कलम जैसे बीमार के लीये 
मलम जैसे
__________________________________________

सुबह का हर पल ज़िंदगी दे आपको 
दिन का हर लम्हा खुशी दे आपको जहा 
गम की हवा छू कर भी न गुज़रे खुदा वो 
जन्नत से ज़मीन दे आपको
__________________________________________

जो नही ज़मी से कम
अजीब अपनी महोब्बत है
अजीब इसके सितम
सोचुँ तो नहीं जिन्दगी तुमसे ज्यादा
सोचुँ तो नहीं तुम जिन्दगी से कम
__________________________________________

जिन्दगी आप बिन उलफत सी लगती है
एक पल की जुदाई मुदत सी लगती है
पहले तो ऐहसास था पर अब यकीन है
हर लम्हा आपकी जरूरत सी लगती है
__________________________________________

याद आते है तो ज़रा खो लेते हैं
आँसू आँखो मे उतर आऐ तो ज़रा रो लेते हैं
नींद आँखो मे आती नहीं लेकीन
आप ख्वाबो में आऐं यही सोच कर सो लेते हैं
__________________________________________

हम दोस्त बनाकर किसी को रुलाते नही
दिल में बसाकर किसी को भुलाते नही
हम तो दोस्त के लिए जान भी दे सकते हैं
पर लोग सोचते हैं की हम दोस्ती निभाते नहीं
__________________________________________

दिल मे मेरे
बसने वाला किसी दोस्त का प्यार चाहिए
ना दुआ
ना खुदा
ना हाथों मे कोई तलवार चाहिए
मुसीबत मे किसी एक प्यारे साथी का हाथों मे हाथ चाहिए
कहूँ ना मै कुछ
समझ जाए वो सब कुछ
दिल मे उस के
अपने लिए ऐसे जज़्बात चाहिए
उस दोस्त के चोट लगने पर हम भी दो
 आँसू बहाने का हक़ रखें
और हमारे उन आँसुओं को 
पोंछने वाला उसी का रूमाल चाहिए
मैं तो तैयार हूँ हर तूफान को तैर कर पार करने
__________________________________________

दिन हुआ है तो रात भी होगी
हो मत उदास
कभी बात भी होगी
इतने प्यार से दोस्ती की है
जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी
__________________________________________

Friends की कमी को जानते है हम ,
दुनिया के दर्द को पहचानते हैं हम ,
साथ है आप जैसे Friends का तभी तो ,
ज़िन्दगी हँस कर जीना जानते है हम।
__________________________________________

सुना है असर हमारी बातों में ,
वरना लोग भूल जाते हैं 2 -4 मुलाकातों में ,
आप हमे भुलाकर कहाँ जायेंगे ,
आपकी दोस्ती की लकीर है मेरे हाथों में।
__________________________________________

दोस्त बन गए चलते चलते ,
ज़िन्दगी कट गयी चलते चलते ,
ये दुनिया याद रखेगी हमारी प्यारी दोस्ती क्यूंकि
” हम है राही प्यार के फिर मिलेंगे चलते चलते “
__________________________________________

अनजान की तरह मिले और उल्फत हो गयी…
अजनबी दोस्त ऐसे मिले की दोस्ती हो गयी…
सच्ची दोस्ती का इरादा था उनसे…
पर हमे उनसे सच्ची मोहब्बत हो गयी।
__________________________________________

मुसीबत का syrup हो तुम … 
Tension का capsule हो तुम … 
आफत की tablet हो तुम… पर क्या करें…
 कहना पड़ता है क्योंकि … 
दोस्ती का injection हो तुम
__________________________________________

कौन होता है दोस्त? दोस्त वो जो बिन बुलाये आये,
 बेवजह सर खाए, जेब खाली करवाए, 
कभी सताए, कभी रुलाये,
 मगर हमेशा साथ निभाए..
__________________________________________

Life में कभी हमारी दोस्ती के बारे में कोई
 ग़लतफहमी हो तो सिक्का उछालना… 
अगर heads आये तो we are friends … 
अगर tail आये तो…
 सिक्का पलट देना दोस्त …
__________________________________________

दोस्त दिल की हर बात समझ जाया करते हैं
सुख दुःख के हर पल में साथ हुआ करते है
दोस्त तो मिला करते है तक़दीर वालो को
मिले ऐसी तक़दीर हर बार हम दुआ करते है
__________________________________________

प्यार और दोस्ती में इतना अंतर पाया है ,
प्यार ने सहारा दिया और दोस्त ने निभाया है
किस रिश्ते को गहरा कहूँ ?
एक ने ज़िन्दगी दी और दूसरे ने जीना सिखाया है।
__________________________________________

कभी कभी दोस्ती में भी दूरिया आ जाती है,
फिर भी सच्ची दोस्ती दिलों को मिलाती हैं ,
वो दोस्त ही क्या जो कभी नाराज़ न हो ,
पर सच्ची दोस्ती ही दोस्तों को मनाती है।
__________________________________________

दोस्ती अच्छी हो तो रंग लाती है ,
दोस्ती गहरी हो तो सबको भाती है ,
दोस्ती नादान हो तो टूट जाती है ,
पर अगर दोस्ती अपने 
जैसी हो तो इतिहास बनाती है।
__________________________________________

राह चलते बुधु बनते हैं दोस्त ..cold drink बोल के
 दारु पिलाते हैं दोस्त… girlfriend बोल कर auntiyo से 
मिलवाते है दोस्त .. कितने भी 
कमीने हो पर याद बहुत आते हैं दोस्त
__________________________________________

पानी ना हो तो नदिया किस काम की ,
आँसू ना हो तो अंखियां किस काम की ,
दिल ना हो तो धड़कन किस काम की ,
अगर मई आपको याद न करू तो हमारी दोस्ती किस काम की
__________________________________________

ज़िन्दगी एक रेलवे स्टेशन की तरह है ,
प्यार एक ट्रेन है जो आती है और चली जाती है ,
पर दोस्त enquiry counter है ,
जो हमेशा कहते हैं May I Help You !
__________________________________________

दोस्ती कोई खोज नहीं होती ,
ये हर किसी से हर रोज़ नहीं होती ,
अपनी ज़िन्दगी में हमें बे- वज़ह मत समझना ,
क्यूंकि पलकें आँखों पर कभी भोज नहीं होती।
__________________________________________

सबसे अलग सबसे प्यारे हो आप ,
तारीफ पूरी न हो इतने प्यारे हो आप ,
आज पता चला ये ज़माना क्यों जलता है आपसे ,
क्यूंकि Friend तो आखिर हमारे हो आप
__________________________________________

तुमसे दूरी का एहसास सताने लगा ,
तेरे साथ गुज़ारा हर लम्हा याद आने लगा ,
जब भी तुझे भूलने की कोशिश की ऐ दोस्त ,
तूँ दिल के औऱ भी करीब आने लगा
__________________________________________

मेरी हँसी का हिसाब कौन करेगा, 
मेरी गलती को माफ़ कौन करेगा,
 ऐ खुदा मेरे दोस्त को सलामत रखना,
 वरना मेरी शादी में ‘लुंगी डांस’ कौन करेगा…
अपना तो कोई दोस्त नही  है, 
सब साले  कलेजे ❤ के टुकडे है ।। 
__________________________________________

सुना है खुदा के दरबार से,
कुछ फरिश्ते हो गए फरार,
कुछ तो बापस चले गये,
और कुछ हो गए हमारे यार..!
__________________________________________

किसने इस #_दोस्ती को बनाया,
कहा से ये #दोस्ती शब्द आया,
#दोस्ती का सबसे ज्यादा #फायदा तो हमने उठाया,
क्यों की #दुनिया का सबसे प्यारा #दोस्त
तो हमारे हिस्से में आया..!
__________________________________________

दोस्ती से कीमती कोई जागीर नही होती,
दोस्ती से खूबसूर्त कोई तस्वीर नही होती,
दोस्ती यूँ तो कचा धागा है मगर,
इस धागे से मजबूत कोई ज़ंजीर नही होती..
__________________________________________

कोई कहेता हे दोस्ती प्यार है,
कोई कहेता हे दोस्ती ज़िन्दगी है,
But दोस्ती, दोस्ती है,
जिससे बढ़ कर न प्यार है न ज़िन्दगी है..
__________________________________________

लोग कहते हैं कि इतनी दोस्ती मत करो
कि दोस्ती दिल पर सवार हो जाए,
हम कहते हैं कि दोस्ती इतनी करो
कि दुश्मन को भी तुमसे प्यार हो जाए..!
__________________________________________

#_दोस्ती सिर्फ पास होने का नाम नही,
अगर तुम दूर रहकर भी हमें #_याद करो...
इससे #_बड़ा हमारे लिए कोई #_इनाम नही.
__________________________________________

मिलना बिछड़ना तो सब किस्मत का खेल है,
कभी नफरत तो कभी दिलों का मेल है,
यूँ तो हर रिश्ता बिक जाता है इस दुनिया में दोस्तों,
सिर्फ दोस्ती ही यहाँ नॉट फॉर सेल है.
__________________________________________

#दोस्ती #शब्द_का_अर्थ
#बड़ा ही #मस्त_होता है, (दो+हस्ती)
जब #दो_हस्ती #मिलती हैं,तब #दोस्ती_होती
__________________________________________

फ्रैंड ओर बेस्ट फ्रैंड में क्या फर्क हैं -
फ्रैंड कहता हैं: यार प्लीज...गाड़ी धीरे चलाना,
बैस्ट फ्रैंड कहता हैं: भगा साले...
आगे स्कॉरपिओ में माल है..!
#दोस्ती में #सच्चाई और
#दोस्ती में # अच्छाई कभी कम नही हो सकती,
दिल तो  # Lovers तोड़ते हैं, 
हम तो # सच्चे दोस्त हैं, सिर्फ़ #दिल जोड़ते हैं.
__________________________________________

लड़कियों  से क्या #दोस्ती  करना, 
जो ☝ #पल भर में छोड़ जाती है, 
#दोस्ती  करनी है तो #लड़को  से करो, 
जो #मरने  के बाद भी कंधे पे ले जाते है.
__________________________________________

दोस्ती होती है – *One Time*
 हम निभाते है – *Some Time*
  याद किया करो – *Any Time*
 珞 तुम खुश रहो – *All Time*
    यही दुआ है मेरी – *Life Time*.
__________________________________________

लड़कियों से क्या #दोस्ती करना ,,,,
जो ☝#पल भर में छोड़ जाती है ,..
#दोस्ती करनी है तो #लड़को से करो ,...
जो #मरने के बाद भी कंधे पे ले जाते है .....
__________________________________________

Har Nazar Ko Ek Nazar Ki Talash
Hai, Har Chehre Me Kuch Toh
Ehsaah Hai, Aapse Dosti Hum
Yun Hi Nahi Kar Baithe, Kya Kare
Hamari Pasand Hi Kuch Khaas Hai.
__________________________________________

Dosti Se Aaj Pyaar Sharmaya
Hai, Teri Chaahat Ne Kuch
Aisa Gazab Dhaya Hai,
Rab Se Kya Maange, Wo To
Aaj Khud, Mujhse Tujh
Jeisa Dost Maang Ne Aaya Hai.
__________________________________________

Kabhi Kisi Se Zikre judai Mat
Karna, Iss Dost Se Kabhi Ruswayi
Mat Karna, Jab Dil Uth Jaye
Hamari Dosti Se To Bata Dena,
Bina Batae Bewafai Mat Karna.
__________________________________________

Aap Se Door Ho Kar Hum Jayenge
Kaha, Aap Jaisa Dost Hum
Payenge Kaha, Dil Ko Kaise
Bhi Sambhal Lenge, Par Aankho
Ke Aansu Hum Chupayege Kaha.
__________________________________________

Aapne Apni Aankho Me Nur Chupa
Rakha Hai, Hosh Walo Ko Diwana
Bana Rakha Hai, Naz Kaise Na
Karu Aapki Dosti Par, Muj Jaise
Naachij Ko Khas Bana Rakha Hai.
__________________________________________

Aasmaan Se Utaari Hai, Taaro Se
Sajaai Hai, Chaand Ki Chaandni
Se Nahaai Hai, Mere Dost!
Sambhaal Ke Rakhna Ye Dosti, Ye
Meri Jindagee Bhar Ki Kamaai Hai
__________________________________________

Dil Ke Sabhi Halaat Mujhe
Kehne Do Behte Hain Ashq
To Inhe Behne Do Bewafai
Shamil Na Karo Dosti Ki
Raaho Mein Kam Se Kam
Dosti Ko To Dosti Rehne Do.
Aapke Dil Me Dosti Ke Buniyaad
Rkhnge, Khud Ko Qaid Tujh Ko
Aazad Rkhnge, Khi Ho Na Jaaye
Koi Gushtakhi, Isliye Apna Kadam
Hum Tumhare Kadam Ke Baad Rkhnge!
__________________________________________

Saari Duniya Ki Muskan Tere Paas
Hai, Yeh Zamin Aur Asman Tere
Paas Hai, Gam Na Karna Ki
Tujhe Yaad Nahi Karte, Aye
Dost Meri Toh Jaan Tere Paas Hai.
__________________________________________

Kabhi Dil Ki Kamzori Bankar Rah
Jati Hai, Kabhi Waqt Ki
Majburi Bankar Rah Jati Hai
Ye Dosti Wo Pani Hai Jitna Bhi
Piyo Pyas Adhuri Rah Jati Hai.
__________________________________________

Dil Kabhi Dil Se Juda Nhi Hote,
Hum Yuhi Har Kisi Par Fida
Nhi Hote, Pyar Se Bada To
Dosti Ka Rista Hai Kyoki
Dost Kabhi Bewafa Nhi Hote.
__________________________________________

Dosti Ka Tohfa Har Kisi
Ko Nhi Milta, Ye Wo Phool
He Jo Har Bag Menhi Khilta,
Is Phul Ko Kbhi Tutne
Mat Dena, Qki Tuta Hua
Phool Kbi Dubara Nhi Khilta.
__________________________________________

Karni Mujhe Khuda Se Kuch
Faryaad Baaqi Hai, Humen Us
Se Kaheni Kuch Baat Baaqi
Hai, Maut Aaye Gi To Kahe
Den Ge Zara Ruk, Abhi Mere Dost
Se Ek Ek Mulaqaat Baaqi Hai.

__________________________________________

Jo Tu Chahe Wo Tera Ho, Roshan
Raate Aur Khubsurat Sabera
Ho, Jari Rahe Humari Dosti
Ka Ye Silsila, Kamyab
Har Manzil Pr Dost Mera Ho.
Dosti Ka Tohfa Har Kisi
Ko Nhi Milta, Ye Wo Phool
He Jo Har Bag Menhi Khilta,
Is Phul Ko Kbhi Tutne
Mat Dena, Qki Tuta Hua
Phool Kbi Dubara Nhi Khilta.

__________________________________________

Dil Kabhi Dil Se Juda Nhi Hote,
Hum Yuhi Har Kisi Par Fida
Nhi Hote, Pyar Se Bada To
Dosti Ka Rista Hai Kyoki
Dost Kabhi Bewafa Nhi Hote.

__________________________________________

Kuch Sitaron Ke Chamak Nhi
Jaati Kuch Yaado Ke Khanak
Nhi Jati, Kuch Dosto Se Hota
Hai Aisa Rishta Ke Door Reh
Ke Bhi Unki Mehak Nhi Jati..!

__________________________________________

Kabhi Dil Ki Kamzori Bankar Rah
Jati Hai, Kabhi Waqt Ki
Majburi Bankar Rah Jati Hai
Ye Dosti Wo Pani Hai Jitna Bhi
Piyo Pyas Adhuri Rah Jati Hai.

__________________________________________

Saari Duniya Ki Muskan Tere Paas
Hai, Yeh Zamin Aur Asman Tere
Paas Hai, Gam Na Karna Ki
Tujhe Yaad Nahi Karte, Aye
Dost Meri Toh Jaan Tere Paas Hai.
Aapke Dil Me Dosti Ke Buniyaad
Rkhnge, Khud Ko Qaid Tujh Ko
Aazad Rkhnge, Khi Ho Na Jaaye
Koi Gushtakhi, Isliye Apna Kadam
Hum Tumhare Kadam Ke Baad Rkhnge!

__________________________________________

Pyar Se Humea Koi Gila Nhi,
Kyuki Pyar Hume Kabhi Mila Nhi,
Hamne To Ke He Zindgi Me Sirf
Dosti  Kyuki Dosto Se Zyada Pyar
Krne Wala Hame Koi Mila Nhi.!
__________________________________________

Dil Me Baat Har Kise Ko
Batai Nhi Jaate, Ghar Walo
Ko Bhi Khi Nhi Jaate,
Par Yar Dost To Aaina
Hota Hai, Aur Aaine Se Koi
Baat Chupai Nhi Jaate Hai!

__________________________________________

Raatein Gumnam Hoti Hai, Din
Kisi ke Naam Hota Hai, Hum
Zindagi  Kuch Is Tarah Jite
Hai, Ki Har Lamha Sirf
Doston Ke Hi Naam Hota Hai.

__________________________________________

Umeed Ke Kashti Ko Koi Dubaa
Nhi Sakta, Roshni Ke Diye
Ko Koi Bujha Nhi Sakta, Dosti
To TajMahal Ke Tarha Hai, Jise
Koi Dubarra Bana Nhi Sakta..!

__________________________________________

Wafa Ke Rang Main Dubi Har
Shaam Tere Liye, Ye Nazar Ye
Nagar Meri Har Sans Tere
Liye, Tu Mehekta Rahe Chandni
Raton Ki Tarah Is Dost Ka
Har Din Har Sham Tere Liye!!

__________________________________________

Mari Dosti Ka Andaza Na Laga Paoge,
Khud Ko Bhool Jaoge Magar Hum Ko
Na Bhool Paoge, Ek Baar Hum Se
Juda Ho Kar To Dekho, Kasam Tumahri
Hamare Bagair Jina Bhool Jaoge.

__________________________________________

Gulab Ki Mehek Ko Churaya Nhi
Jata, Suraj Ki Roshni Ko Chupaya
Nhi Jata, Duriya Chahe Kitni
Bhi Ho Dosto Me Lekin Chahkr
Bhi Dosto Ko Bhulaya Nahi Jata.

__________________________________________

Teri Dosti Ne Diya Sukoon
Itna, Ke Tere Baad Koi Acha
Na Lage.. Tujhe Karni Hain
Bewafai To Is Ada Se Kar, Ke
Tere Baad Koi Bewafa Na Lagey..
Yaado Ke Sahare Duniya Nhi
Chalti, Bina Mile Kabhi
Mehfil Nhi Banti, Ek Baar
Dil Se To Pukaro Ye Dost,
Dosto Ke Bina Ye
Dhadkan Bhi Nhi Chalte..!

__________________________________________

Dosti K Panno Se Bhari Kitab Ho
Tum, Rishton K Phulon Mai Gulab
Ho Tum, Kuch Log Kehte Hai Ke
Dost Sache Nahi Hote, Un Logon
Ke Har Sawaal Ka Jawab Ho Tum.

__________________________________________

Aaj Khushiyon Ki Koi Badhai
Dega. Nikla Hai Chand To
Dikhai Dega. Ae Dost Dosti
Ki Hai Humne Aapse. Aapka Ek
Aansu Bhi Ghira To Sunai Dega.

__________________________________________

Log Kahte Hai Zami Par Kisi Ko
Khuda Nahi Milta, Shayad Un Logo
Ko Dost Koi Tumsa Nahi Milta,
Kismat Walo Ko Hi Milti Hai Panah
Kisi Ke Dil Me, Yun Har Shaks
Ko Jannat Ka Pata Nahi Milta.

__________________________________________

Dil Me Hasraton Ko Daba Ke Jeete
Hain, Apne Gham Ko Duniya Se Chhupa
Ke Jeete Hain, Kya Lootega Zamana
Khushiyon Ko Meri, Hum Khushiyan
Doston Par Luta Ke Jeete Hain.

__________________________________________

Aap Hi Dosti Aap Hi Ka
Intezar Aap Hi Se Milne Ko
Dil Rahta He Bekrar Apki
Ye Sadgi Apka Ye Pyar
Zindgi Bhar Na Bhulege
Apke Is Pyar Ko Mere Yar.
Har Lafz Ko Kagaz Pe Utara
Nahi Jata, Har Naam Ko Sar
E Aam Pukara Nahi Jata..
Hoti Hai Dosti Me Kuch Raaz
Ki Baaten, Is Khel
Me Dil Haara Nahi Jata..!

__________________________________________

Zindagi Aisi Ho Jo Jine Ko Majboor
Kare, Rahein Aisi Ho Jo Chalne
Ko Majboor Kare, Khushboo
Kabhi Dosti Ki Kam Na Ho, Dosti
Aisi Ho Jo Milne Ko Majboor Kare.

__________________________________________

Zindagi Kisi Ki Amanat Nahi
Hoti, Amanat Mein Kabhi Kayamat
Nahi Hoti, Dil Zara Sambhal
Kar Rakiye Meri Dost, Dosti
Mein Kabhi Kayamat Nahi Hoti.

__________________________________________

Kabhi Teri Palkon Pe Jhilmilaun
Main, Tu Intejaar Kare Aur Na
Aaun Mai, Dost Samandar Me
Pahunch Kar Fareb Na Karna, Tu
Kahe To Kinare Pe Doob Jaun Main.

__________________________________________

Karni Mujhe Khuda Se Kuch
Fariyad Baki Hai. Hame
Unse Kehni Kuch Baat Baki
Hai. Maut Aayegi To Keh
Denge Zara Ruk, Abhi Mere
Dost Se Ek Mulakat Baki Hai.

__________________________________________

Pholoon Ki Wadi Mai Ho Basera
Tera, Sitaron K Angan Mai Ho
Ghar Tera, Dua Hai Ek Dost
Ki Ek Dost Ko, Ke Tujse Bhi
Khoobsurat Ho Muqadder Tera.
Roshni Taaro Ki Falak Par
Chamakti Hai, Kusbu Phoolo
Ki Baag Mai Mahkti Hai,
Duniya Dhoonti Hai Jis
Masumiyat Ko, Wo Mere Dost
Ke Chehre Pe Jhalkti Hai.

__________________________________________

Rab Se Sacha Koi Ho Nahi Sakta,
Apse Acha Koi Ho Nahi Sakta,
Apki Dosti Hamare Nasib
Me Hai To Hamare Nasib Se Acha
Kisi Aur Ka Nasib Ho Nahi Sakta.

__________________________________________

Teri Dosti Me Khud Ko Mehfooz
Maante Hai, Hum Dosto Me
Sabse Ajeez Maante Hai, Teri
Dosti Ke Saaye Me Zinda
Hai, Hum To Tumhe Khuda
Ka Diya Hua Tabeez Maante Hai.

__________________________________________

Gila Tujhse Nhi Koi Mujhko,
Gila Apne Majburiyo Se
Karte Hai, Tu Aaj Humare
Kareeb Na Sahi Ye Dost..
Mohobbat To Hum Tere
Duriyon Se Bhi Karte Hai!

__________________________________________

Zindagi Ki Raho Me Bahut Se Yar
Milenge, Hum Kya Humse Bhi
Achhe Hazaar Milenge, Un Acchon
Ki Bheed Me Hume Na Bhoola Dena,
Hum Kaha Tumhe Bar Bar Milenge!

__________________________________________

Munkin Nahi Shayad Kisi Ko Samjh
Pana, Smjhe Bina Kisi Se
Kya Dil Lagana, Aasan Hai
Kisi Ko Dost Banana, Bahut
Mushkil Hai Kisi Ki Dosti Pana!

__________________________________________

Hame Dafna Sako Itni To Zami Chhod
Jayege Hum, Teri Aankho Me Nammi
Chhod Jayege Hum, Fir Dhundte Rehna
Hame In Hwaao Me, Teri Zindagi Me
Ek Dost Ki Kami Chhod Jayege Hum

__________________________________________

Ishq Mein Kabhi Qayamat Nahi
Hoti, Qayamat Mein Kabhi
Chahat Nahi Hoti, Mujhse
Bachke Rehna Mere Dost, Meri
Dosti Mein Jamanat Nahi Hoti!
Aansu Ponch Kar Hasaya Hai Mujhe,
Meri Galti Par Bhi Sine Se
Lagaya Hai Mujhe, Kaise Pyar Na
Ho Aise Dost Se, Jiske
Pyar Ne Jeena Sikhaya Hai Mujhe.

__________________________________________

Saari Duniya Ki Muskan Tere
Paas Hai, Yeh Zamin Aur
Asman Tere Paas Hai, Gam
Na Karna Ki Tujhe Yaad
Nahi Karte, Aye Dost Meri
Toh Jaan Tere Paas Hai....!

__________________________________________

Mushkilon Se Ghabrake Ab
Jeena Nahi Chahte, Door
Tumse Ho Kar Ab Rehna Nahi
Chahte Yun To Bahut Dost
Aaye Is Zindagi Mein Par Tum
Jaise Dost Ko Khona Nahi Chahte..

__________________________________________

Bhulenge Wo Log Bhulna Jinaka
Kaam Hai, Humri Dosto Ke
Bina Guzarti Nhi Shaam Hai,
Kaise Bhul Sakte Hai Hum Un
Dosto Ko, Jo Humari
Zindagi Ka Dusra Naam Hai!!

__________________________________________

Zindgi Har Pal Khas Nahi Hoti,
Phool Ki Khushbu Hamesha Paas
Nahi Hoti, Milna To Hamare
Taqdir Me Likha Tha, Varna Itni
Pyaari Dosti Itefaq Nahi Hoti.

__________________________________________

Har Khusi Dil K Karib Nhi
Hoti, Mohabbat Gamo Me Shrik
Nhi Hoti, Tumhari Dosti Ko
Sambhal K Rakhenge Dil Me,
Kyoki Achhi Dosti Har Kisi
Ko Nasib Nhi Hoti.

__________________________________________

Tere Dil Ko Sajayange Apne
Armaan Deker, Tere Labon Ko
Hasayange Apni Muskaan Dekar,
Dosti Ki Kasam Tuje Kafan
Se Utha Le Aayenge, Tere
Jism Mein Apni Jaan Dekar.

__________________________________________

Teri Muskuraht Meri Pehchaan
Hai, Teri Khushi Meri Jaan
Hai, Kuch Bhi Nahi Meri Zindgi.
Bas Itna Samajh Le Ki Tera
Dost Hona Meri Shaan Hai!
__________________________________________

Jo Palpal Chalti Rahe, Use Zindagi
Kehte Hai, Jo Harpal Jalti Rahe, Use
Roshni Kehte Hai, Jo Palpal Khilte
Rahe, Use Mohabbat Kehte Hai, Jo
Saath Na Chode, Use Dosti Kehte Hai.

__________________________________________

Har Khushi Dil Ke Karib Nahi
Hoti, Jindagi Gamo Se Dur
Nahi Hoti, Aye Dost Dosti
Ko Sanjokar Rakhna, Dosti
Har Kisi Ko Nasib Nahi Hoti.

__________________________________________

Do Dosto Ki Dosti Se Jalte Hai
Log, Tarah Tarah Ke Baate Karte
Hai Log, Jab Chand Aur Suraj
Ka Hota Hai Khulakar Milna To
Use Bhi Grahan Kahte Hai Log.

__________________________________________

Dosto Ki Judai Ka Gum Na Karna,
Door Rahe To Bhi Dosti Kam Na
Karna, Agar Mile Zindagi Ke
Kisi Mod Per Hum, To Hame Dekh
Kar Apni Aankhe Band Na Karna.

__________________________________________

Dosti Karo Aisi Ki Duniya Sari
Hil Jaye, Dosti Karo Aisi Ki
Duniya Sari Hil Jaye, Kya Hoga
Kisi Ka Jab Use Mere Jaisa
Paidaishi Kamina Dost Mil Jaye!

__________________________________________

Suna Dosti Ke Panno Se Bhari
Kitab Ho Tum, Rishton Ke
Phoolo Main Gulab"Ho Tum,
Kuch Log Kehte Hain Ke Dost
Sachhe Nahi Hote, Un Logo
Ke Savalo Ka Jawab Ho Tum!

__________________________________________

Hasti Mit Gayi Aashiyana Banane
Me, zindagi Mit Gayi Game-E-Dil
Mitane Me, Ek Pal Ke Liye B Na
Door Hona Hamse, ham Agla Janam
Lage Ga Tum Jaisa Dost Banane Me.

__________________________________________

Dosti Se Aaj Pyaar Sharmaya
Hai Teri Dosti Ne Humein
Jina Sikhaya Hai Kya Maange
Khuda Se Hum Woh To Khud
Aaj Mere Dar Par Teri
Dosti Maangne Aaya Hai.

__________________________________________

Tanha Thi Zindgi Lamho Ki
Bheed Main, Socha Koi Dost
Nahi Takdeer Main, Par Jab
Aap Dost Bane Toh Aisa
Laga, Jaise Kuch Khas Tha
Kismat Ki Lakeer Main.

__________________________________________

Phoolo Se Khushboo Churayi
Nahi Jati, Suraj Se Roshni
Chhipayi Nahi Jati, Kitni
Bhi Door Kyo Na Ho Tum,
Dosti Me Aap Jaisi Dost Ki
Dosti Bhulayi Nahi Jati..

__________________________________________

Manzil Door Aur Safar
Bahut Hai Chote Se Is Dil
Ko Fikar Bahut Hai Maar
Dalti Kab Ki Ye Dunyan
Hume Lekin Dosto Aap Ki
Duaon Mai Asar Bahut Hai.

__________________________________________

Humhe Aapne Dil Me Basaye
Rakhna. Hamari Yadoon Ke
Chiraag Jalaye Rakhna, Bahut
Lamba Hai Zindgi Ka Safer
Mere Dost, Aapni Zindgi Ka Ek
Hissa Humhe Bhi Banaye Rakhna.

__________________________________________

Dosti Imtihan Nahi Viswas Mangti
Hai, Nazar Aur Kuch Nahi Dost
Ka Deedar Mangti Hai, Zindagi
Apne Liye Kuch Nahi Par Aapke
Liye, Dua Hazaar Mangti Hai..

__________________________________________

Tere Dosti Mere Liye Thofa
Hai Khuda Ka, Jo Kbhi Na
Toote Wo Rishta Hai Wafa Ka,
Hum Tujhko Kbhi Na Bhula
Sakenge.. Tujh Se Rishta Hai
Aise Jaise, Hath Or Duaa Kar

__________________________________________

Tere Dosti Mere Liye Thofa
Hai Khuda Ka, Jo Kbhi Na
Toote Wo Rishta Hai Wafa Ka,
Hum Tujhko Kbhi Na Bhula
Sakenge.. Tujh Se Rishta Hai
Aise Jaise, Hath Or Duaa Kare

__________________________________________

Khuda Humko Kabhi Aissi Judai
Na De, Unki Yaadon Se Humko
Rihai Na De, Dua Karna Dosto,
Mujhe Aisi Jannat Na Mile, Jahan
Se Mera Yaar Mujhe Dikhai Na De!

__________________________________________

Hasne Se Kabhi Khushi Nai
Hoti, Jeene Se Kabi Zindagi
Nai Hoti, Apno Se Zayda Khyal
Rakhna Padta Hai, Dost Ka
Dost Kehne Se Dosti Nahi Hoti.
Dil Armaano Se Houseful
Hai, Pura Hoga Ya Nhi Ye
Doubtful Hai, Yun To Duniya
Me Har Cheez Wondarful Hai,
Par Zindagi Aap Jaise
Dosto Se Powerful Hai..!

__________________________________________

Zindagi Har Pal Khaas Nahi Hoti,
Phuloon Ki Khushbu Hamesha Paas
Nahi Hoti, Milna Hamari Taqdir
Mein Likha Thaa varna, Itni Pyari
Dosti Kabhi Itefaaq Nahi Hoti.

__________________________________________

Dil Ka Rishta Hai Humara, Dil
Ke Kone Mein Hai Naam Tumhara,
Har Yaad Mein Hai Chehra
Tumhara, Saath Nahin Toh Kya
Hua, Zindagi Bar Dosti
Nibhane Ki Waada Hai Humaara.

__________________________________________

Baharo Ki Mahfil Suhani
Rahegi, Labon Par Khushi
Ki Kahani Rahegi Chamkte
Rahenge Khusiyon Ki Ye
Sitare Agar Aapki 'Dosti'
Ki Maharbani Rahegi.

__________________________________________

Rishton Ki Ye Duniya Hai Niraali,
Sab Rishton Se Pyaari Hai Dosti
Tumhaari, Manzoor Hain Aansun
Bhi Aakhon Mein Hamare, Agar Aa
Jaaye Muskaan Hothon Pe Tumahaari.

__________________________________________

Aankho Mein Basne Wala Pyaara
Sa Ishara Ho, Andheri Raat Mein
Chamakta Sitara Ho. Chhu Bhi
Nahi Sakti Udasi Kabhi Usko.
Jiska Koi Dost Itna Pyaara Ho!!

__________________________________________

Hum Woh Phool Hain Jo Roz Roz
Nahi Khiltay Yeh Wo Honth
Hain Jo Kabhi Nahin Siltay
Hum Se Bichhro Ge To Ehsaas
Hoga Tumhein Hum Woh Dost
Hain Jo Roz Roz Nahin Miltay.

__________________________________________

Palke To Ankho Ki Hifajt
Hoti Hai, Dhadkan To Dil
Ki Amant Hoti Hai, Ye
Dosti Ka Rista Bhi Hai
Kabhi Chahat To
Kabhi Sikayat Hoti Hai.

__________________________________________

Har Zindagi Ko Ek Kinara Chahiye
Her Saksh Ko Ek Sahara
Chahiye Zindagi Jee
Sake Hanste Hanste Isliye
Dost Aap Jaisa Pyara Chahiye.

__________________________________________

Aapki Dosti Ko Ek Nazar
Chahiye, Dil He Beghar
Use Ek Ghar Chahiye, Bas
Yuhin Saath Chalte Raho
E Dost, Yeh Dosti Humein
Umar Bhar Chahiye..

__________________________________________

Yaadon Mein Aane Waale Tera
Shukriya, Dil Ko Bahelane Waale
Tera Shukriya, Kyun Karta Hai
Aaj Ke Zamane Mein Kisise
Dosti Itni, Hame Dost
Kahne Vaale Tera Shukriya.

__________________________________________

Dost Ke Liye Ajab Misal He
Hum, Sachche Dost Ki Pehchan
He Hum, Ye To Nhi Kehte, Hum
Sultan Mirza H Mumbai K,
Lekin UP K
'Tees Maar Khan' Hai Hum.

__________________________________________

Guzare Huve Kal Ki Yaad Aati
Hai, Kuch Lamhon Se Aankhen
Bhar Aati Hai, Woh Subah
Rangeen Shaam Nirali Doob
Jati Hain, Jab Aap Jaise
Doston Ki Yaad Aati Hai..!

__________________________________________

Ae Dost Zindagi Bhar Mujhse
Dosti Nibhaana, Dil Ki Koi
Bhi Baat Humse Kabhi Na
Chupaana, Sath Chalna
Mere Tum Dukh Sukh Mein
Bhatak Jau Mein Jo Kabhi
Sahi Raasta Dikhlaana.

__________________________________________

Dil Mein Armaan Bahut Hai,
Zindagi Mein Gum Bahut
Hai, Kab Ke Maar Dete Ye
Duniya Humea, Kambahkt Doston
Ke Duaa Mein Dum Bahut Hai!

__________________________________________

Wo Mohobbat Kuch Adhuri
Si Lagi, Paas Ho Kar Bhi
Doori Si Lagi, Honthon Par
Hansi Aankhon Me Nami,
Peheli Baar Kisi Ki Dosti
Itni Jaruri Lagi..

__________________________________________

Karne Mujhe Khuda Se Kuch
Fariyaad Baki Hai, Hume
Unse Kehne Kuch Baat Baku
Hai, Maut Aayege To Keh
Denge Zara Ruk.. Abhi Mere
Dost Se Mulakaat Baki Hai!

__________________________________________

Hasrato Ki Nigaho Pe Shaqt
Pehra Hai, Na Jaane Kis
Umeed Par Dil Thehra Hai,
Teri Chahaton Ki Kasam Ae
Dost, Apni Dosti Ka Rishta
To Pyaar Se Bhi Gehra Hai..

__________________________________________

Dosti Se Aaj Pyaar Sharmaya
Hai Teri Dosti Ne Humein Jina
Sikhaya Hai Kya Maange Khuda
Se Hum Woh To Khud Aaj Mere Dar
Par Teri Dosti Maangne Aaya Hai.

__________________________________________

Har Khushi Dil Ke Karib
Nahi Hoti, Zindgi Gamo Se
Dur Nahi Hoti, Ae Dost Dosti
Ko Sanjo Kar Rakhana, Dosti
Har Kisi Ko Nasib Nahi Hoti.

__________________________________________

Kon Kehta Hai Dost Ki Tumse
Humari Judaai Hogi, Yeh Afwaah
Zroor Kissi Dushman Ne Udaayi
Hogi, Shaan Se Rahenge Tumahre
Dil Mein Hum, Itne Dino Mein
Kuch To Jagah Bnayi Hogi..

__________________________________________

Umeend Ki Kasti Ko Koi Duba Nahi
Sakta, Roshni Kn Diye Ko Koi
Bujha Nahi Sakta, Humari Dosti
To Tajmhal Ki Tarah Hai,
Jise Dubara Koi Bana Nahi Sakta.

__________________________________________

Ye Dost Tujhe Mere Dosti Ke
Aaj Kadar Nhi, Hai Humare
Dosti Kitne Khaas Ye Bhi
Tujhe Khbar Nhi, Hum To Dosti
Me Us Khuda Se Bhi Lad
Jayenge, Wo Tu Hoga Jise Is
Dosti Ke Koi Kadar Nhi..!

__________________________________________

Pucha Mujh Se Chand Sitaro
Ne Tujhe Bhula Diya Tere
Jigri Yaaro Ne Maine Muskurate
Hue Kaha Bhul To Nahi
Sakte Kamine Bas Lage
Honge Kisi Ko Patane Mein.

__________________________________________

Har Lafz Ko Kagaz Per Utara Nahi
Jata, Har Nam Ko Sare Aap
Pukara Nahi Jata, Hoti He Dosi
Me Kuch Raz Ki Baatein Yuhi To
Is Khel Me Dil Hara Nahi Jata.

_________________________________________

Pyar Se Bada Koi Dhoka Nhi
Hota, Bewafai Se Bada Koi
Thofa Nhi Hota, Kbhi Na
Thukrana Dost Ki Dosti,
Kyuki Duniya Me Dost Se
Bada Koi Bahrosa Nhi Hota!!
__________________________________________

Hum Jaise Dost Hote Nahi
Sabhi Ke Liye. Ye Tohfa
Hai Kisi Kisi Ke Liye.
Kyu Jala Rakhi Hai Shama
Bhujha Dijiye. Kya Hum
Kam Hai Roshani Ke Liye.

__________________________________________

जितनी # इज्जत_खुदा कि है….
उतनी # इज्जत मेरे # दिल मे मेरे # दोस्तो कि है…
फर्क सिर्फ इतना है कि...
# खुदा एक # कुदरत है …
और मेरे # दोस्त मेरे लिये # जन्नत है

__________________________________________

हस्तियाँ मिट गयी नाम कमाने में..
उम्र बीत गयी खुशियाँ पाने में..
एक पल में दूर ना हो जाना हमसे..
हमें तो सालों लगे है, आप जैसा दोस्त पाने में .

__________________________________________

रेत की जरूरत रेगिस्तान को होती है,
सितारों की जरूरत आसमान को होती है,
आप हमें भूल न जाना, क्योंकी
दोस्त की जरूरत हर इंसान को होती है…….

__________________________________________

दिन हुआ है तो रात भी होगी,
हो मत उदास कभी बात भी होगी,
इतने प्यार से दोस्ती की है,
जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी.
__________________________________________

समंदर के लिए वो लहरे क्या जिसका कोई किनारा ना हो..
तारो के लिए वो रात क्या जिसमे चाँद ना हो..
हमारे लिए वो दिन ही क्या..
जिस मे आप की याद ना हो..

__________________________________________

यादों के सहारे दुनिया नही चलती,
बिना किसी शायर के महफ़िल नही बनती,
एक बार पुकारो तो आए दोस्तों,
क्यों की दोस्तों के बिना ये धड़कने नही चलती

__________________________________________

कहीं अँधेरा तो कहीं शाम होगी ,
मेरी हर ख़ुशी तेरे नाम होगी ,
कुछ मांग कर तो देख मेरे दोस्त ,
होंठों पर हंसी हथेली पर जान होगी।
(‘.’)’ ‘(‘.’)
/( )\/{ }\
_!!__/\_.

__________________________________________

वक़्त नूर को बहनूर कर देता है
थोड़े से जखम को नासूर कर देता है
वरना कोन चाहता है तुम जेसे दोस्तो से दूर रहना
वक़्त ही तो इंसान को मजबूर कर देता.

__________________________________________

छोड़ दी सारी खाव्हिश जो तुझे
पसंद ना थी ए दोस्त….
तेरी दोस्ती ना सही पर तेरी
ख्वाहिश आज भी पूरी करते है..

__________________________________________

एक मुलाकात करो हम से, इनायत समझ कर
दे देंगे जिन्दगी का हिसाब , कयामत समझ कर
कभी हमारी दोस्ती पर तू, कोई शक न करना
हम दोस्ती भी करते हैं तो , इबादत समझ कर !!!!!

__________________________________________

दिल में तुम्हारे अपनी कमी छोड़ जाएँगे,
आँखों में इंतजार की लकीर छोड़ जाएँगे,
याद रखना मुझे ढूँढते फिरोगे एक दिन,
जिन्दगी में दोस्ती की कहानी छोड़ जाएँगे,

__________________________________________

हम आज भी शतरंज का खेल अकेले ही खेलते हैं ।।
क्योंकि दोस्तों के खिलाफ चाल चलना हमें आता नही।।

__________________________________________

फुल हो तुम मुरझाना नहीं
अपने इस दोस्त को कभी भुलाना नहीं
जब तक हम जिन्दा है ए दोस्त
कभी किसी से घबराना नहीं

__________________________________________

छोङ दो तन्हाई में मुझको यारों,
मेरे साथ रहकर क्या पाओगे ?
अगर हो गयी आपको भी मोहब्बत कभी,
मेरी तरह तुम भी पछताओगे !!.
टूटे ख्वाबों को जोड़ा नही जाता,
तुज़से रिश्ता अब भी तोड़ा नही जाता,
पाना तुमको मुमकिन हे नही,
पर यह दिल मेरी सुनता ही नही.

__________________________________________

खुदा का दिया हुआ नूर हो तुम,
फरिस्तो से पाया हुआ हूर हो तुम
रब करे किसी की नज़र ना लगे तुम्हे
इस दुनिया मे सबसे खूबसूरत ज़रूर हो तुम

__________________________________________

जिन्दगी और व्हिस्की, चाहे जितनी ज्यादा हो,
यार दोस्तों के साथ रहो तो 
साली हमेशा कम पड़ ही जाती है..!!

__________________________________________

अगर तुम सारी जिंदगी के लिए किसी
को दोस्त रखना चाहते हो अपने दिल
मे कब्र बना लो ताकि तुम अपने दोस्त
की गलती दफन कर सको

__________________________________________

“जिन्‍दगी की राहों में बहुत से यार मिलेगें
हम क्‍या हमसे भी अच्‍छे हजार मिलेगें
इन अच्‍छों की भीड में हमे ना भूला देना
हम कहॉ आपको बार बार मिलेगें ” !!

__________________________________________

Hamari Judai Ka Gum Na Karna,
Door Raho To Bhi Dosti Kam
Na Karna, Agar Mile Aap Aur
Hame Zindagi Ke Kisi Mod
Par, Toh Dekh Kar Humko
Apni Aankhe Band Na Karna.

__________________________________________

Hum Jaise Dost Hote Nahi
Sabhi Ke Liye. Ye Tohfa
Hai Kisi Kisi Ke Liye.
Kyu Jala Rakhi Hai Shama
Bhujha Dijiye. Kya Hum
Kam Hai Roshani Ke Liye.

__________________________________________

Har Lafz Ko Kagaz Per Utara Nahi
Jata, Har Nam Ko Sare Aap
Pukara Nahi Jata, Hoti He Dosi
Me Kuch Raz Ki Baatein Yuhi To
Is Khel Me Dil Hara Nahi Jata.

__________________________________________

Pyar Se Bada Koi Dhoka Nhi
Hota, Bewafai Se Bada Koi
Thofa Nhi Hota, Kbhi Na
Thukrana Dost Ki Dosti,
Kyuki Duniya Me Dost Se
Bada Koi Bahrosa Nhi Hota!!

__________________________________________

Hamari Judai Ka Gum Na Karna,
Door Raho To Bhi Dosti Kam
Na Karna, Agar Mile Aap Aur
Hame Zindagi Ke Kisi Mod
Par, Toh Dekh Kar Humko
Apni Aankhe Band Na Karna.

__________________________________________

Hamari Judai Ka Gum Na Karna,
Door Raho To Bhi Dosti Kam
Na Karna, Agar Mile Aap Aur
Hame Zindagi Ke Kisi Mod
Par, Toh Dekh Kar Humko
Apni Aankhe Band Na Karna.

__________________________________________

Muskan K Dayre Me Hamesha
Dil Khush Nai Hota. Aasuon
K Nasib Me Hamesha Gam
Nai Hota. Door Hon Fasle
Chahe Jitne, Kuch Doston K
Liye Pyar Kabhi Kam Nai Hota.

__________________________________________

Dosti Ki Khoj Nahi Hoti, Ye Har
Kisi Se Roz Nahi Hoti, Apni
Zindgi Me Meri Maujudgi Bewajah
Mat Samjhna, Qki Palke Aakhon
Par Kabhi Bojh Nahi Hoti.

__________________________________________

Geet Ki Zaroorat Mehfil Mein Hoti
Hai, Pyar Ki Zaroorat Dil Mein
Hoti Hai, Bin Dosti Ke Adhuri
Hai Yeh Zindagi, Kyunki Dost Ki
Zaroorat Har Pal Mehsus Hoti Hai.

__________________________________________

Wo Pal Bhi Kya Pal Raha Hoga,
Jab Khuda Aap Jaisa Dost Bana
Raha Hoga, Pareshan Hoga Khuda
Bhi Us Waqt Kyonki Har Koi Aapko
Paane Ke Liye Use Mana Raha Hoga.

__________________________________________

Dosti Mein Dil Ka Tamasha
Dekha Nahi Jata, Humse Tuta
Hua Sisa Dekha Nahi Jata,
Apne Hisse Ki Khusiya Bhi
De Du Tujhe, Aye Dost Tera
Utra Hua Chehra Dekha Nahi Jata..
Beshak Thoda Intizaar Mila
Humko, Par Duniya Ka Sabse
Hasi Yaar Mila Humko, Na Rhe
Tamanaa Ab Kise Jaanat Ke Mere
Dosti Me Wo Pyar Mila Humko!

__________________________________________

Ae Dost Kabhi Mujhe Bhula
Na Dena, Is Hanste Hue Chehre
Ko Kabhi Rula Na Dena, Kabhi
Kisi Baat Per Khafa Ho Bhi
Jao, Par Mujhse Door Hokar
Mujhe Judai Ki Saza Na Dena.

__________________________________________

Dosti Imtihan Nahi Viswas Mangti
Hai, Nazar Aur Kuch Nahi Dost
Ka Deedar Mangti Hai, Zindagi
Apne Liye Kuch Nahi Par Aapke
Liye, Dua Hazaar Mangti Hai..

__________________________________________

Dard Tha Dil Me Par Kavi
Dikhaya Nahi, Aansu The
Aankho Me Par Kavi Roya
Nahi, Yahi Fark Hai Dosti
Aur Pyar Me, Ishq Ne Kavi
Hasaya Nahi Aur Doston
Ne Kavi Rulaya Nahi...

__________________________________________

Ae Dost Kabhi Mujhe Bhula Na Dena,
Is Hanste Hue Chehre Ko Kabhi
Rula Na Dena, Kabhi Kisi Baat Per
Khafa Ho Bhi Jao, Par Mujhse Door
Hokar Mujhe Judai Ki Saza Na Dena.

__________________________________________

Jasbaate Ishq Naakaam Naa
Hone Denge Dil Ki Duniya Mein
Kabhi Shaam Naa Hone Denge
Dosti Ka Har Ilzaam Apne
Sar Par Le Lenge Par Dost Hum
Tumhe Badnaam Na Hone Denge.

__________________________________________

Pal Pal Tera Saath Nibhaayenge
Hum, Tere Ek Ishare Pe
Duniya Chhod Jaayenge Hum,
Samundar Me Pahockar Fareeb
Na Karna A Dost Tu Kahe Toh
Kinaare Pe Duub Jaayenge Hum.

__________________________________________

Ek Pal Ke Ye Baat Nhi, Do
Pal Ka Ye Saath Nhi, Waise
Zindagi Ek Safar Se Ban
Gye Hai Par, Wo Safar Bhi
Kya Jisme Aap
Jaise Dosto Ka Saath Nhi..!

__________________________________________

Ruth Jao Kitna Bhi Par
Mana Lenge, Door Jao Kitna
Bhi Par Bula Lenge, Dil
Akhir Dil Koi Sagar Ke
Ret To Nhi, Jo Likh Ke Naam
Dosto Ka Mita Denge..!!

__________________________________________

Meri Dharkano Me Aap Ka Hi
Raz Hoga, Meri Bat Ka Bas
Yehi Andaz Hoga, Kabhi
Bewafaee Nahin Karte Hum
Dosti Me, Meri Dosti Pe Aap
Ko Hamesha Naz Hoga!!!
Jasbaate Ishq Na Kaam Na Hone Denge,
Dil Ki Duniya Me Kabhi Shaam Na
Hone Denge, Dosti Ka Har Ilzaam
Hum Apne Sarpe Le Lenge, Par Dost
Hum Tumhe Badnaam Na Hone Denge.

__________________________________________

Zikar Hua Jab Khuda Ki Rehmaton
Ka, Humne Khud Ko Khushnaseeb
Paya, Tamanna Thi Ek
Pyaare Se Dost Ki, Khuda
Khud Dost Bankar Chala Aaya!
Dil Kabhi Dil Se Juda Nhi Hote,
Hum Yuhi Har Kisi Par Fida
Nhi Hote, Pyar Se Bada To
Dosti Ka Rista Hai Kyoki
Dost Kabhi Bewafa Nhi Hote.

__________________________________________

Kabhi Dil Ki Kamzori Bankar Rah
Jati Hai, Kabhi Waqt Ki
Majburi Bankar Rah Jati Hai
Ye Dosti Wo Pani Hai Jitna Bhi
Piyo Pyas Adhuri Rah Jati Hai.

__________________________________________

Dosti Mai Dil Ka Tamasa Dekha
Nahi Jata, Humse Tuta Hua
Shisa Dekha Nahi Jata, Apne
Hisse Ki Sari Khusiya Lutadu
Tumper, Humse Tera Utra
Hua Chehara Dekha Nahi Jata.

__________________________________________

Dekhi Hazaron Mehfilen Par Ye Fiza
Kuch Aur Hai, Jalwe Dekhe Hazaron
Par Unki Adaa Kuch Aur Hai,
Waise To Jaam Hain Hazaron, Par
Unki Dosti Ka Nasha Kuch Aur Hai.

__________________________________________

Kuch Sitaron Ke Chamak Nhi
Jaati Kuch Yaado Ke Khanak
Nhi Jati, Kuch Dosto Se Hota
Hai Aisa Rishta Ke Door Reh
Ke Bhi Unki Mehak Nhi Jati..!

__________________________________________

Jo Tu Chahe Wo Tera Ho, Roshan
Raate Aur Khubsurat Sabera
Ho, Jari Rahe Humari Dosti
Ka Ye Silsila, Kamyab
Har Manzil Pr Dost Mera Ho.

__________________________________________

Dosti Ka Tohfa Hr Kisi Ko
Ni Milta, Ye Wo Phool Hai
Jo Hr Baag Me Ni Khilta,
Is Phool Ko Kabhi Murjhane
Mat Dena, Qki Murjhaya Hua
Phool Kisi Kaam Ka Ni Hota.

__________________________________________

Meri Dharkano Me Aap Ka Hi
Raz Hoga, Meri Bat Ka Bas
Yehi Andaz Hoga, Kabhi
Bewafaee Nahin Karte Hum
Dosti Me, Meri Dosti Pe Aap
Ko Hamesha Naz Hoga!!!
__________________________________________

Ek Pal Ke Ye Baat Nhi, Do
Pal Ka Ye Saath Nhi, Waise
Zindagi Ek Safar Se Ban
Gye Hai Par, Wo Safar Bhi
Kya Jisme Aap
Jaise Dosto Ka Saath Nhi..!

__________________________________________

Ishq Mohabbat Toh Hazaron Karte
Hain, Gham E Judai Se Woh Sabhi
Darte Hain, Hum Toh Na Ishq
Karte Hain, Na Mohabbat Karte
Hain, Hum Toh Bas Dosto Ki
Ek Muskurahat Par Marte Hain.

__________________________________________

Khusi Ka Pal Ho Tumare Liye,
Baharo Ka Gulista Ho Tmare
Liye, Kamyabiki Manjil Ho
Tumhare Liye, Bas Ek Pyara Sa
Dost Banke Rehna Humare Liye.

__________________________________________

Toofan Hai Zindagi, Toh Sahil Hai
Teri Dosti, Safar Hai Meri Zindagi,
Manzil Hai Teri Dosti Maut Ke Baad
Mil Jayegi Mujhe Jannat Zindagi
Bhar Rahe Agar Kaayam Teri Dosti!

__________________________________________

Sari Umar Aankhon Mein Ek Sapna
Yaad Raha, Sadiya Beet Gayi Wo
Lamha Yaad Raha, Jaane Kya Baat
Thi Us Dosti Mein, Sari Mehfil
Bhool Gaye Wo Dostana Yaad Raha.

__________________________________________

Beshak Thoda Intizaar Mila
Humko, Par Duniya Ka Sabse
Hasi Yaar Mila Humko, Na Rhe
Tamanaa Ab Kise Jaanat Ke Mere
Dosti Me Wo Pyar Mila Humko!

__________________________________________

Ae Dost Kabhi Mujhe Bhula
Na Dena, Is Hanste Hue Chehre
Ko Kabhi Rula Na Dena, Kabhi
Kisi Baat Per Khafa Ho Bhi
Jao, Par Mujhse Door Hokar
Mujhe Judai Ki Saza Na Dena.

__________________________________________

Dosti Imtihan Nahi Viswas Mangti
Hai, Nazar Aur Kuch Nahi Dost
Ka Deedar Mangti Hai, Zindagi
Apne Liye Kuch Nahi Par Aapke
Liye, Dua Hazaar Mangti Hai..

__________________________________________

Dard Tha Dil Me Par Kavi
Dikhaya Nahi, Aansu The
Aankho Me Par Kavi Roya
Nahi, Yahi Fark Hai Dosti
Aur Pyar Me, Ishq Ne Kavi
Hasaya Nahi Aur Doston
Ne Kavi Rulaya Nahi...

__________________________________________

Ae Dost Kabhi Mujhe Bhula Na Dena,
Is Hanste Hue Chehre Ko Kabhi
Rula Na Dena, Kabhi Kisi Baat Per
Khafa Ho Bhi Jao, Par Mujhse Door
Hokar Mujhe Judai Ki Saza Na Dena.

__________________________________________

Jasbaate Ishq Naakaam Naa
Hone Denge Dil Ki Duniya Mein
Kabhi Shaam Naa Hone Denge
Dosti Ka Har Ilzaam Apne
Sar Par Le Lenge Par Dost Hum
Tumhe Badnaam Na Hone Denge.

__________________________________________

Jasbaate Ishq Naakaam Naa
Hone Denge Dil Ki Duniya Mein
Kabhi Shaam Naa Hone Denge
Dosti Ka Har Ilzaam Apne
Sar Par Le Lenge Par Dost Hum
Tumhe Badnaam Na Hone Denge.

__________________________________________

Baat Baat Pe Yu Sataya Nhi
Karte, Samjhe Hue Baat Ko
Samjhya Nhi Karte, Jin Dosto
Se Hai Pyar Itna Unhe Unke
Ahmiyat Bataya Nhi Karte..

__________________________________________

Hum Khud Par Kabhi Guroor
Nahi Karte, Yaad Karne Ke
Liye Majboor Nahi Karte,
magar Hum Ek Baar Kisi Ko
Dost Bana Le To Use Dil
Se Kbhi Door Nahi Karte..

__________________________________________

Chand Se Jab Mulakat Hoti H,
 Aapke Bare Me Unse Kuch
Baat Hoti H, Wo Kehte H
Mere Pas Khubsurat Sitara
H, Hum Kehte H Usse
Bhi Dilkash Dost Hamara Hai.

__________________________________________

Phulon Ki Wadi Main Ho Basera
Aap Ka, Sitaron Ke Angan Main
Ho Ghar Aap Ka, Dua Hai Ek
Dost Ki Ek Dost Ke Liye, Aap Se
Bhi Khubsurat Naseeb Ho Aap Ka.

__________________________________________

Koi Acche Se Sazaa Do Mujhko
Chalo Bhula Do Mujhko,
Tumse Dosti Toote Us Din
Mout Aa Jaye Mujhko, Dil Ke
Gehriyo Se Duaa Do Mujhko..!

__________________________________________

Kya Kahoo Kaise Dost Ho Tum,
Mere Liye Ye Duniya Ho Tum,
Roshan Kare Wo Diya Ho Tum.
Chhuke Guzri Wo Hawa Ho Tum,
Mere Dil Ne Mangi Dua Ho Tum.

__________________________________________

Maangi Muat Lekin Hamko
Zindgi Mili Andheron Me
Bhi Hamko Roshni Mili
Poocha Khuda Se Kya Hai
Sabse Haseen Tohfa Mere
Liye Hamein Us Haseen
Tohfa Me Apki Dosti Mili.

__________________________________________

Haseen Pal Ki Zarorat Hai Mujhe,
Beete Huye Kal Ki Zarorat Hai
Mujhe, Sara Zamana Rooth Gaya
Mujh Se, Jo Kabhi Na Roothe
Aise Dost Ki Zarorat Hai Mujhe!

__________________________________________

Mana Bhulna Humari Aadat
Hi Sahi, Par Aapko Bhula
De Ye Humare Baas Mein
Nahi, Bhool Sakenge Khud
Ko Bhi Kabhi, Par Yakeen
Rakhna Dost App Ko Nahi.

__________________________________________

Log Kahte Hai Jami Per Kisi Ko
Khuda Nahi Milta, Sayed Unn
Logo Ko Dost Koi Tumsa Nahi Milta,
Kismat Walo Ko Hi Milti Hai Panah
Kisi Ke Dil Me, Yun Her Sakhs
Ko Jannat Ka Pata Nahi Milta

__________________________________________

Dosti Ki Raho Mai Kabhi
Akelapan Na Mile, Ae Dost
Zindagi Mai Tumhe Kabhi
Gum Na Mile, Dua Karte Hai
Hum Khuda Se, Tuhme Jo Bhi
Dost Mile Hum Se Kam Na Mile.

__________________________________________

Dosti Mai Dil Ka Tamasa Dekha
Nahi Jata, Humse Tuta Hua
Shisa Dekha Nahi Jata, Apne
Hisse Ki Sari Khusiya Lutadu
Tumper, Humse Tera Utra
Hua Chehara Dekha Nahi Jata.

__________________________________________

Tum mile har khushi mil gayi hai hame,
Lagta hai ki dusri zindgi mil gayi hai hame.
Zindgi me Jiska tha saalo se
 intezar hame,
Jeevan ka saathi bina maange 
mil gaya hame..

__________________________________________

Aap Jaise Friend Humhe Khas Lagte Hain,
Is Liye Hum Aap Se Ik Aas Rakhte Hain,
Najane Kab Aa Jaye Aap Ka Sms,
Is Liye Mobile Dil Ke Paas Rakhte Hain.

__________________________________________

Har Pal Khayaal Bas Aata Hai Tumhara,
Dekh Ke Tumhe Dil Diwana Ho Jata Hai
Hamara, Kuch Itna Asar Hai Mohabbat
Ka Teri Mujh Per Ki Baato Baato Mein
Hothon Pe Naam Aa Jata Hai Tumhara.

__________________________________________

Rishton Ki Duniye Hai Nirali, Sab
Rishoton Se Pyari Hai Dosti
Tumhari, Manzoor Hai Aansu
Bhi Aakho Mein Hamaree, Agar
Aa Jaaye Muskaan Hont Pe Tumahari.

__________________________________________

Gulab Ki Mahak Ko Churaya Nahi
Jata, Suraj Ki Rosni Ko Chhupaya
Nahi Jata Duriya Chahe Kitni
Bhi Ho Dosto Me. Lekin Chahkar
Bhi Dosto Ko Bhulaya Nahi Jata.

__________________________________________

Is Dostana Andaz Ko Barkarar Rakhna,
Har Khoobsurat Lamhe Ko Yaad Rakhna,
Zindagi Me Dosti Sab Se Nhi Hoti,
Isliye Apne Is "
 Dost Ko Hamesha Yaad Rakhna..

__________________________________________

Teri Muskuraht meri pehchaan hai,
Teri Khushi meri jaan hai,
Kuch bhi nahi meri zindgi
Bas itna samajh le ki
 tera Dost hona meri shaan hai!

__________________________________________

Wo Bhool Jaye To Ussy Bhool Jane Do Na.
"DOST"
Uss Ki Bewafai K Liye,
Hum Apni Wafa To Nahi Chorr Sakte,

__________________________________________

Boond Se Moti Maang Lenge,
Chand Se Chandni Mang Lenge,
Agar Teri Dosti Naseeb
Huyi A Dost, To Khuda
Se Ek Aur Zindagi Mang Lenge.

__________________________________________

Aaj Rootha Hua Ek Dost
Bahut Yaad Aaya, Aacha
Guzra Hua Waqt Bahut Yaad
Aaya, Jo Mere Dard Ko Seene
Me Chupa Leta Tha, Aaj Jab
Dard Hua To Bahut Yaad Aaya...!

__________________________________________

Har Kadam Par Imtihaan Leti
Hai Zindagi, Har Waqt
Naya Sadma Deti Hai Zindagi.
Hum Jindagi Se Kya Shikwa
Kare, Aap Jaise Dost
Bhi To Deti Hai Zindagi.

__________________________________________

Aap Haso To Khusi Mujhe Hoti
Hai, Aap Ruthe To Ankhe Mere
Roti Hai, Aap Door Jao To
Bechani Mujhe Hoti Hai, Mehsus
Kar Ke Dekho Dost
Dosti Aise He Hote Hai..!

__________________________________________

Ho Sake To Mujhe Kuch Khas Rakhna
Dosti Ka Itna To Ehsas Rakhna
Tumhari Duaon Se Mil Jaye
Shayed Kamyabi Mujhe Ye Soch Kar
Apni Har Dua Mein Yaad Rakhna.

__________________________________________

Meelon Ke Faaslon Me Bhi Doori Na
Ho, Baat Na Ho Aisi Koyi Majburi
Na Ho, Meri Tamanna Hai Aap Dost
Rahe Har Dam, Aap Dua Karna Meri
Ye Tamanna Kabhi Adhoori Na Ho.

__________________________________________

Mohabbat Ka Pata Har Kisi Ko Bataya
Nahi Jata, Kisi Khas Dost Ko
Kabhi Bhulaya Nahi Jata Apko
Rakha Hai Dil Me Us Jagah Par
Jaha Har Kisi Ko Sajaye

__________________________________________

Zindagi Me Kuch Na Paa Sake
To Kya Gum Hai, Tere Jaisa
Dost Paya Ye Kya Kam Hai,
Ek Choti Se Jagha Jo Paaye
Hai Aap Ke Dil Me, Wo Kya
Kise TAJ MAHAL Se Kam Hai.!

__________________________________________

Ajnabi Galiyaon Se Hum Guzra
Nhi Karta, Dard-E-Dil Liya
Aur Diya Nhi Karte, Ye
Dosti Ka Rishta Sirf Tum Se
Hai.. Warna Itne SMS
Hum Kise Ko Kiya Nhi Karte!

__________________________________________

Kash Sach Yeh Mera Sapna Ho
Jaye, Jan Se Bhi Pyara Dost
Apna Ho Jaye, Khuda Humari
Dosti Sada Salamat Rakhe, Warna
Lafz-E-Hosti Hi Fana Ho Jaye.

__________________________________________

Rishta Dosti Ka Kisi Aur
Rishte Se Kam Nai, Mile Agar
Acha Dost To Kisi Baat Ka
Ghum Nahi, Dosti Mai Pyar
Hota Kabi Kam Nahi Is Liye
Tum Bin Hum, Hum Bin Tum Nahi.

__________________________________________

Tanhiyo Main Humea Yaad
Karoge, Mehfil Me Humko
Talassh Karoge, Jab Koi Na
Milega Humare Jisa Dost,
Tab Shayad Humare
Dosti Pe Naaz Karoge..!!

_________________________________________

Sache Hai Apne Dosti Aazma
Ke Dekhlo, Karke Yakeen
Hum Pe Kuch Farmaa Ke Dekhlo,
Badalta Nhi Sona Apna Rang
Kabhi, Chahe Jitne Marzi
Aag Me Jala Ke Dekhlo!

__________________________________________

Agar Itni Pyari Soch Tumhari
Na Hoti, Mulaqaat Yun Tumse
Hamari Na Hoti, Tadapte Rehte
Sachhe Dost Ke Liye, Agar
Dosti Tumse Hamari Na Hoti.

__________________________________________

Sitam Karo Ya Na Karo Hum Sikwa
Nahi Karte, Veerano Me Phool Kabhi
Khila Nahi Karte, Aur Itna Yaad
Rakhna Mere Dost, Ki Hum Jaise
Dost Bar  Bar Mila Nahi Karte.

__________________________________________

Toofan Hai Zindagi To Sahil
Hai Tere Dosti, Safar Hai
Meri Zindagi To Manzil Hai
Tere Dosti, Muat Ke Baad Mujhe
Mil Jayege Jannat, Zindagi Bhar
Agr Rhe Kaayam Tere Dosti..!

__________________________________________

Dost Ki Yad Se Badi Koi
Dolot Nahin Hoti, Sath Rehna
Hi Dost Ki Jarurat Nahin
Hoti. Duriyan Kar Deti Hai
Yado Ko Jinda, Warna Yadon
Ki Koi Kimat Nahin Hoti.

__________________________________________

Ae Lekhne Wale Ek Farmaan Likh
De, Mere Dost Ke Takdeer Me
Uske Har Armaan Likh De, Na
Mile Use Kabhi Dard Zindagi
Main, Tu Chahe Mere
Zindagi Me Gam Tamam Lekh De.!

__________________________________________

Ae Lekhne Wale Ek Farmaan Likh
De, Mere Dost Ke Takdeer Me
Uske Har Armaan Likh De, Na
Mile Use Kabhi Dard Zindagi
Main, Tu Chahe Mere
Zindagi Me Gam Tamam Lekh De.!

__________________________________________

Kabhi Dil Ki Kamzori Bankar Reh
Jaati Hai, Kabhi Waqt Ki
Majburi Bankar Reh Jaati He,
Ye Dosti Wo Paani Hai, Jitna Bhi
Piyo Pyaas Adhuri Hi Reh Jaati Hai.

__________________________________________

Meri Dharkano Me Aap Ka
Hi Raz Hoga, Meri Bat Ka
Bas Yehi Andaz Hoga, Kabhi
Bewafaee Nahin Karte Hum
Dosti Me, Meri Dosti Pe
Aap Ko Hamesha Naz Hoga!!

__________________________________________

Ummidon Ka Silsila Kbhi
Kam Nhi Hota, Yaadon Ka
Musam Kbhi Khatam Nhi Hota,
Har Kadam Pe Chalte Hai Jo
Humdard Bankar, Wo Dost
Us Khuda Se Kam Nhi Hota.!

__________________________________________

Dosti Ki Gehrai Judai Me Bhi
Hoti Hai, Baate To Hoti
Rehti Hai, Par Bina Baato
Ki Dosti Jab Jinda Rahe,
Tabhi Usme Sachai Hoti Hai.

__________________________________________

Kabhi Kabhi In Ankho Main
Nami Se Hoti Hai, Kabhi
Kabhi In Honto Pe Hansi
Si Hoti Hai, Ae Dost Woh
Tumhi Ho Jisse Meri
Zindgi, Zindgi Si Hoti Hai.

__________________________________________

Kahin Ahdhere To Kahin Sham Hogi
Hamare Har Khushi Aap Ke Naam
Hogi, Kuch Maang Ke Dekh Lijiye
Humse Ye Dost, Hoton Pe
Hansi Aur Hatheli Pe Jaan hogi.

__________________________________________

मैं कहूँ और आप सुनो वो अच्छी दोस्ती; 
आप कहो और मैं सुनूँ वो उससे भी अच्छी दोस्ती; 
पर मैं कुछ भी न कहूँ और
 आप समझ जाओ तो वो है सच्ची दोस्ती!


__________________________________________

मेरी झोली में कुछ अलफ़ाज़ अपनी 
दुआओ के डाल देना, ऐ दोस्त;
क्या पता, तेरे लब हिले और 
मेरी तकदीर सवर जाये!


__________________________________________

एक दिन प्यार और दोस्ती मिले! 
प्यार ने पूछा मेरे होते हुए तुम्हारा यहाँ क्या काम? 
दोस्ती बोली मैं उन होंटों पे मुस्कान लाती हूँ
 जिन आँखों में तुम आंसू छोड़ देती हो!


__________________________________________

फूलों की महक को चुराया नही जाता; 
सूरज की किरणों को छुपाया नही जाता; 
कितने भी दूर रहो ए दोस्त तुम; 
दोस्ती में आप जैसे दोस्त को भुलाया नही जाता!


__________________________________________

स्वीट सा टाइम देख कर अपने स्वीट से 
दोस्त की स्वीट सी याद आई तो
 सोचा की स्वीट सा एस एम एस कर दूँ
 ताकि हमारी स्वीट सी दोस्ती में 
थोड़ी स्वीटनेस और बढ़ जाये!


__________________________________________

ऐसा नही की आपकी याद आती नही,
ख़ता सिर्फ़ इतनी है के हम बताते नही,
दोस्ती आपकी अनमोल है हमारे लिए,
समझते हो आप, इसीलिए हम जताते नही


__________________________________________

तुझे देखे बिना तेरी तस्वीर बना सकता हूँ,
तुझसे मिले बिना तेरा हाल बता सकता हूँ,
है मेरी दोस्ती में इतना दम,
तेरी आँख का आँसू आपनी आँख से गिरा सकता हूँ


__________________________________________

जब से जाना, तब से जाना,
क्या होता है याराना,
नाज़ुक रिश्ता है इतना जाना,
मुश्किल है इश् रिश्ते को निभाना


__________________________________________

जज़्बातों के रौशनाई से यह क़लम लिखा है
ये दोस्त तुझ को ये पेगाम लिखा है
क़ुरबान जाऊ इस मिज़ाज-ए-शायरने पे
तेरी उम्दा शायरी पे तुझको सलाम लिखा है


__________________________________________

रिश्तों से बड़ी चाहत और क्या होगी;
दोस्ती से बड़ी इबादत और क्या होगी;
जिसे दोस्त मिल सके कोई आप जैसा;
उसे ज़िंदगी से कोई और शिकायत क्या होगी।


__________________________________________

दिल कभी दिल से जुदा नही होते,
यूही हम किसी पर फिदा नही होते,
प्यार से बड़ा तो दोस्ती का रिश्ता है,
क्यूकी दोस्त कभी बेवफा नही होते…


__________________________________________

गुनाह करके सजा से डरते हैं,
ज़हर पी के दवा से डरते हैं,
दुश्मनों के सितम का खौफ नहीं हमें,
हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते है।


__________________________________________

दोस्ती करो तो धोका मत देना,
किसी को आशाओं का तोहफा मत देना,
दिल से रोए कोई तुम्हे याद करके,
ऐसा कभी किसी को मोका मत देना.”


__________________________________________

दोस्ती करो तो धोका मत देना,
किसी को आशाओं का तोहफा मत देना,
दिल से रोए कोई तुम्हे याद करके,
ऐसा कभी किसी को मोका मत देना.”


__________________________________________

कुछ लोग यादो को दिल की तस्वीर बनाते है,
दोस्तो की यादों में महफ़िल सजाते है,
हम थोड़े अलग है,
जो किसीकि याद आने से 
पहले उनको अपनी याद दिलाते है


__________________________________________

ज़िंदगी क तूफ़ानो का साहिल है तेरी दोस्ती
दिल के अरमानो की मंज़िल है तेरी दोस्ती
__________________________________________

आपकी दोस्ती को एहसान मानते है
निभाना अपना ईमान मानते है
लेकिन हम वो नही जो दोस्ती मे अपनी जान दे देंगे
क्यों की दोस्तो को तो हम अपनी जान मानते है.


__________________________________________

अगर जवाब दोगे तो बात करेंगे
नही दोगे तो इंतेज़ार करेंगे ,
दोस्ती की है आपसे इसलिए मरते दम तक
आप को हर पल याद करेंगे .


__________________________________________

दोस्ती इम्तिहान नही विश्वास मांगती है,
नज़र और कुछ नही दोस्त का दीदार मांगती है,
ज़िंदगी अपने लिए कुछ नही पर आपके लिए,
दुआ हज़ार मांगती है…


__________________________________________

दोस्ती नज़रों से हो तो उससे कुद्रत कहते है,
सितारों से हो तो जन्नत कहते है,
आँखों से हो तो मोहब्बत कहते है,
और दोस्ती आप से हो तो किस्मत कहते है…


__________________________________________

अच्छा दोस्त एक फूल की तरह होता हे
जिसे हम छोड़ भी नही सकते ओर तोड़ भी नही सकते ,
तोड़ दिया तो मुरझा जाए गा और
छोड़ दिया तो कोई और ले जाए गा ..


__________________________________________

“ए दोस्‍त तेरी दोस्‍ती ये नाज करते है
 हर बकत मिलने की फरियाद करते है
 हमें नही पता घरवाले बताते है 
के हम नीदं में भी आपके बात करते हैं ”


__________________________________________

“जिन्‍दगी की राहों में बहुत से यार मिलेगें
 हम क्‍या हमसे भी अच्‍छे हजार मिलेगें 
इन अच्‍छों की भीड में हमे ना भूला देना 
हम कहॉ आपको बार बार मिलेगें ”


__________________________________________

हम वो नहीं जो दिल तोड़ देंगे, 
थाम कर हाथ साथ छोड़ देंगे,
 हम दोस्ती करते हैं पानी और मछली की तरह, 
जुदा करना चाहे कोई तो हम दम तोड़ देंगे …


__________________________________________

प्यार करने वालो की किस्मत ख़राब होती हैं ! 
हर वक़्त इन्तहा की घड़ी साथ होती हैं !!
 वक़्त मिले तो रिश्तो की किताब खोल के देखना !
 दोस्ती हर रिश्तो से लाजवाब होती हैं !!


__________________________________________

हर सपना खुशी का पूरा नहीं होता, 
कोई किसी के बिना अधुरा नहीं होता, 
जो रोशन करता है सब रातों को,
 वो चाँद भी तो हर बार पूरा नहीं होता


__________________________________________

अजीब तमाशा है मिट्टी के बने लोगों का यारो,
 बेवफ़ाई करो तो रोते है और वफ़ा करो तो रुलाते है…


__________________________________________

दोस्ती ज़िन्दगी में रौशनी कर देती हैं !
 हर ख़ुशी को दोगुनी कर देती हैं…..!!
 कभी झूम के बरसती हैं बंज़र दिल पे !
 कभी अमावस को चांदनी कर देती हैं


__________________________________________

ये दोस्ती चिराग हैं जलाए रखना ! 
दोस्ती खुशबू हैं महकाए रखना….!!
 हम रहे आपके दिल में हमेशा के लिए ! 
इतनी जगह दिल में हमारे लिए बनाए रखना !!


__________________________________________

हर कोई साथ हो ये जरुरी नहीं होता 
! जगह तो दिल में बनायीं जाती हैं !!
 पास होकर भी दोस्ती इतनी अटूट नहीं होती !
 जितनी की दूर रह कर निभाई जाती हैं !!


__________________________________________

यह दोस्ती मेरी नहीं हमारी है,
 इसलिए तो सब रिश्तो से प्यारी है 
मुमकिन नहीं दोस्तों का रोज़ मिलना,
 तभी तो SMS का सिलसिला जारी है


__________________________________________

किस हद तक जाना है ये कौन जानता है, 
किस मंजिल को पाना है ये कौन जानता है,
 दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो, 
किस रोज़ बिछड जाना है ये कौन जानता है


__________________________________________

प्यार करने वालो की किस्मत ख़राब होती हैं !
 हर वक़्त इन्तहा की घड़ी साथ होती हैं !! 
वक़्त मिले तो रिश्तो की किताब खोल के देखना !
 दोस्ती हर रिश्तो से लाजवाब होती हैं !!


__________________________________________

दोस्ती तो सिर्फ एक इत्तफाक हैं !
 यह तो दिलो की मुलाक़ात हैं !! 
दोस्ती नहीं देखती यह दिन हैं की रात हैं !
 इसमें तो सिर्फ वफादारी और जज्बात हैं !!


__________________________________________

हम वो नहीं जो दिल तोड़ देंगे,
 थाम कर हाथ साथ छोड़ देंगे,
 हम दोस्ती करते हैं पानी और मछली की तरह,
 जुदा करना चाहे कोई तो हम दम तोड़ देंगे


__________________________________________

दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है
, दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है, 
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना, 
क्योकी दोस्ती जरा सी नादान होती है.. .


__________________________________________

ऐ दोस्त तेरी दोस्ती पर नाज़ हैं, 
हर वक्त मिलने की फरीयाद करते हैं,
 हमें नहीं पता घर वाले बताते हैं,
 हम निंद में भी आपसे बात करते हैं


__________________________________________

दिल से दिल बड़ी मुश्किल से मिलते हैं!
 तुफानो में साहिल बड़ी मुश्किल से मिलते हैं! 
यूँ तो मिल जाता है हर कोई!
 मगर आप जैसे दोस्त नसीब वालों को मिलते हैं!


__________________________________________

दोस्त दोस्त से खफा नहीं होता,
 प्यार प्यार से जुदा नहीं होता, 
भुला देना मेरी कुछ कमियों को,
 क्यूंकि इंसान कभी खुदा नहीं होता |


__________________________________________


जीने की नयी अदा दी है, 
खुश रहने की उसने दुआ दी है,
 ऐ खुदा मेरे दोस्तों को सालामत रखना, 
जिसने अपने दिल में मुझे जगह दी है


__________________________________________

मेरे यार बिना कोई महफ़िल ना सजती है, 
जैसे चाँद बिना रात अधूरी लगदी है, 
ऐ खुदा सब को ऐसा यार देना, 
जिसके आने से ज़िन्दगी रोशन सी लगदी है |


__________________________________________

तेरी दोस्ती ने बहुत कुछ सिखला दिया,
 मेरी खामोश दुनिया को जैसे हँसा दिया, 
कर्ज़दार हूँ मैं खुदा का,
 जिसने मुझे आप जैसे दोस्त से मिला दिया |


__________________________________________

Milon Ke Faaslon Me Bhi Doori Na
Ho, Baat Na Ho Aisi Koyi Majburi
Na Ho, Meri Tamanna Hai Aap Dost
Rahe Har Dam, Aap DUA Karna Meri
Ye Tamanna Kabhi Adhoori Na Ho.
Kyu Mushkilon Me Saath Dete
Hain Dost, Kyu Har Gum Ko
Baant Lete Hain  Dost, Na
Rishta Khoon Se Na Riwaaz
Se Bandhan, Fir Bhi Zindagi
Bhar Saath Dete Hai Dost..!
__________________________________________

Dosti Laajawab Hoti Hai Pyar
Karne Walon Ki Kismat Kharab
Hoti Hai Har Waqt Dukh Ki Ghadi
Sath Hoti Hai Waqt Mile To
Rishto Ki Kitaab Padh Lena Dosti
Har Rishte Se Laajawab Hoti Hai.
Kamyabi Kabhi Badi Nahi Hoti,
Pane Wale Hamesha Bade Hote
Hai. Darar Kabhi Badi Nahi
Hoti, Bharne Wale Hamesha Bade
Hote Hai. Itihaas Ke Har
Panne Par Likha Hai, Dosti
Kabhi Badi Nahi Hoti, Nibhane
Wale Hamesha Bade Hote Hai.
__________________________________________

Har Lafz Ko Kagaz Pe Utara
Nahi Jata, Har Naam Ko Sar
E Aam Pukara Nahi Jata,
Hoti Hai Dosti Me Kuch
Raaz Ki Baaten, Is Khel
Me Dil Haara Nahi Jata..!
__________________________________________

Nazuk Si Bhool Se Shisha
Na Toote, Choti Choti Bato
Se Apne Na Ruthe, Thodi Si
Bhi Fikar Agar Aapko Hai
Hamari, To Koshish Karna
Ki Yeh Dosti Na Toote.
Teri Dosti Ne Bahut Kuch Sikha
Diya, Meri Khamosh Duniya Ko
Jaise Hansa Diya, Karjdaar
Hun Main Us Khuda Ka Jisne, Mujhe
Tere Jaise Dost Se Mila Diya.
__________________________________________

Baat Baat Par Jo Log Rooth Jaate
Hain Haath Unse Anjaane
Mein Jo Chhoot Jaate Hain,
Bade Nazuk Hote Hain Dosti
Ke Rishte Iss Mein Haste
Haste Bhi Dil Toot Jaate Hain.

Dost Ki Yad Se Badi Koi Dolot
Nahin Hoti, Sath Rehna Hi Dost
Ki Jarurat Nahin Hoti, Duriyan
Kar Deti Ha Yado Ko Jinda, Warna
Yadon Ki Koi Kimat Nahin Hoti.
__________________________________________

ज़िन्दगी का भरोसा नहीं, दुनिया का यकीन क्या करें, 
आज की यारी मतलब की, कोई किसी के लिए क्यूँ मरे | 
भाई भाई से करे धोखा, गैरों से उम्मीद ना रही, 
माना के यह कल युग है,
 मगर प्यार जिंदा है कहीं ना कहीं |
__________________________________________

दोस्ती करो BSNL वाली से प्यार करो IDEA वाली से.
 बात करो airtel वाली से. 
आँख लड़ाओ vodafone वाली से.
 पर दोस्तो शादी करना बिना मोबाइल वाली से.
फुल हो तुम मुरझाना नहीं 
अपने इस दोस्त को कभी भुलाना नहीं
 जब तक हम जिन्दा है 
ए दोस्त कभी किसी से घबराना नहीं
__________________________________________

यकीन पे यकीन दिलाते हैं दोस्त; 
राह चलते को बेवकूफ बनाते हैं दोस्त; 
शरबत बोल के दारू पिलाते हैं दोस्त; 
पर कुछ भी कहो साले बहुत याद आते हैं दोस्त!
__________________________________________

कुछ दोस्त ज़िन्दगी में इस तरह शामिल हो जाते है;
अगर भुलाना चाहो तो और याद आते है; 
बस जाते ही वो दिल में इस तरह कि, 
आँखे बंद करो तो सामने नज़र आते है!
__________________________________________

खवाइश दिल से जताई नहीं जाती;
दोस्तों की याद यूँ ही भुलाई नही जाती;
चलो हम ही एस एम एस कर देते है;
दोस्तों से तो तकलीफ उठाई नही जाती!
__________________________________________

जबसे आपको जाना है, जबसे आपको पाया है,
 हर दुआ में मेरी आपका नाम आया है!
दिल करता है पूछूं उस खुदा से कि
 तूने इतना प्यारा दोस्त क्या सिर्फ मेरे लिए बनाया है?

दोस्तों से बिछड़ के यह एहसास हुआ ग़ालिब, 
थे तो कमीने लेकिन रौनक भी उन्ही से थी!
__________________________________________

'वक़्त, दोस्त और रिश्ते;
ये वो चीजें हैं जो हमें मुफ्त मिलती हैं!
मगर इनकी कीमत का तब पता चलता है, 
जब ये कहीं खो जाती हैं!

अगर तुम परीक्षा में पास हो जाते हो तो...
माँ: कितनी ख़ुशी की बात है!
बाप: मेरा बेटा शेर है!
लवर: सो स्वीट!
और...
दोस्त: कुत्ते! कमीने! ज़लील!
 तू इतना कब पढ़ा?


__________________________________________


ज़िन्दगी में हमेशा नए दोस्त मिलेंगे;
कही ज्यादा तो कही कम मिलेंगे;
एतबार जरा सोचकर करना;
मुमकिन नही तुम्हें हर जगह हम मिलेंगे!
__________________________________________

गजब की पंक्तियाँ: 
जो दोस्त कमीने नहीं होते,
वो कमीने, दोस्त ही नहीं होते!
__________________________________________

हम वो नहीं जो दिल तोड़ देंगे,
 थाम कर हाथ साथ छोड़ देंगे, 
हम दोस्ती करते हैं पानी और मछली की तरह, 
जुदा करना चाहे कोई तो हम दम 
तोड़ देंगे …
__________________________________________

तेरी दोस्ती के दीवाने है 
इसीलिए हाथ फैला दिया ए दोस्त…;;
 वरना हम तोह खुद कि ज़िन्दगी के लिए भी 
दुआ नहीं करते ।
__________________________________________

हजारों चेहरों में उसकी झलक मिली मुझको… पर. 
दिल भी जिद पे अड़ा था कि अगर वो नहीं ,
तो उसके जैसा भी नहीं…
__________________________________________

मेरी झोली में कुछ अलफ़ाज़ अपनी दुआओ के डाल देना,
 ऐ दोस्त; क्या पता, 
तेरे लब हिलें और मेरी तकदीर सवर जाये!
__________________________________________

मह दोस्तों में तुम्हें सबसे अजीज मानते हैं
तेरी दोस्ती के साये में जिंदा हैं
हम तो तुझे खुदा का दिया हुआ तावीज मानते हैं
__________________________________________

हर आईने में तेरी तस्वीर मुझे नजर आई है
लोग कहते हैं प्यार में निंद उड़ जाती है
हम ने निंदों में ही प्यार की दुनिया बनाई है
__________________________________________

लोग दौलत देखते हैं, हम इज़्ज़त देखते हैं,
लोग मंज़िल देखते हैं, हम सफ़र देखते हैं,
लोग दोस्ती बनाते हैं, हम उसे निभाते हैं.
__________________________________________

दोस्ती कोई खोज नहीं होती,
हर किसी से ये हर रोज़ नहीं होती,
अपनी ज़िन्दगी में हमें बेवजह मत समझना,
__________________________________________

#दोस्ती तो वो है...
जो #बारिश मे भीगे #चेहरे पर भी,
गिरे हुये #आँसू पहचान लेती है.
__________________________________________

#दोस्ती  में दोस्त #दोस्त_का_ख़ुदा होता है,
#महसूस तब होता है जब दोस्त  #दोस्त_से_जुदा होता है.
__________________________________________

सुनो, आज खुशी मिली थी डिबिया में 
बंद कर के रख ली है तुम मिलोगें,
तो मिल-बाँट के खायेगें, 
नहीं तो शायद मीठी न लगे !!
__________________________________________

करनी है खुदा से गुजारिश तेरी दोस्ती के 
सिवा कोई बंदगी न मिले, 
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा
 या फिर कभी जिंदगी न मिले।
__________________________________________

हम वो नहीं जो दिल तोड़ देंगे, 
थाम कर हाथ साथ छोड़ देंगे,
 हम दोस्ती करते हैं पानी और मछली की तरह, 
जुदा करना चाहे कोई तो हम दम तोड़ देंगे …
__________________________________________

एक सच्चा दोस्त , उचित सलाह देता है, 
सहजता से मदद करता है ,
आसानी से जोखिम उठता है, 
सबकुछ धैर्यपूर्वक सहता है,
 हिम्मत से बचाव करता है और
 बिना बदले दोस्ती बरक़रार रहता है.
__________________________________________

कभी भी उनसे मित्रता मत कीजिये जो 
आपसे कम या ज्यादा प्रतिष्ठा के हों.
 ऐसी मित्रता कभी आपको ख़ुशी नहीं देगी.
__________________________________________

कभी मिल सको तो इन पंछियो की तरह
 बेवजह मिलना ए दोस्त वजह से
 मिलने वाले तो न जाने हर रोज़ कितने मिलते है …....
__________________________________________

बेखबर हो गए है कुछ दोस्त हमसे,
 जो हमारी ज़रूरत को महसूस नहीं करते.
 कभी बहुत बातें किया करते थे हमसे,
 अब खेरियत तक नहीं पूछते…!!
__________________________________________

कितना कुछ जानता होगा वो सख्श मेरे बारे में;
 मेरे मुस्कुराने पर भी जिसने पूछ लिया कि तुम उदास क्यूँ हो ?
__________________________________________

Rista Bana Rahega Hamara Jindgi
bhar, Ummid Hai Aetraj Na Hoga
Aapko Is Yakin Par, Jab Bhi Ho
Aapko Ek Dost Ki Jarurat, Main
Hu Aapse Bas Ek Pal Ki Duri Par.
Kami Hai Es Duniya Me Aise
Logon Ki, Kisi Ki Parwah Jo
Kiya Karte Hai, Ahsaan Hai
Apka Mujpar, Jo Aap Meri
Dosti Ki Kadar Kiya Karte Hai.
Kaanton Me Rehkar Bhi Hum
Zindgi Ji Lete Hain, Har
Zakhm Apne Honton Se Hi Si
Lete Hain.. Jis Haath Ko Keh
Diya Dost Ka Haath, Us Haath
Se Hum Zehar Bhi Pi Lete Hain!
__________________________________________

Loading...
Loading...
Name

1500+ Best Happy birthday,1,Bewafa,3,Bhai Dooj,1,Christmas,4,Dard shayari,6,Dassehra,1,Dhanteras,1,Dosti Shayari,5,Dussehra,1,Eid,5,Fathers Day,3,Festival,17,Friendship,5,Funny Shayari,1,Gandhi Jayanti,3,Ghazal,1,Good Afternoon shayari,1,Good Evening Shayari,2,Good Friday,2,Good Morning,7,Good Night,5,Gujarati,8,Happy Birthday,51,Happy Diwali,5,Happy Holi,3,Happy Karwa Chauth,2,Happy Navratri,5,Independence day,3,Intjar Shayari,1,Jayanti,2,Kali Chaudas,1,Love Shayari in hindi,9,Love status,4,Makar Sankranti,4,Miss you,2,Motivation,1,Nafarat / Hate,1,New Year,9,Rakhi,3,Republic Day,5,Romantic Shayari,1,Season,5,Sharabi Shayari,1,Shayari,16,Shayari Images,2,Sher Shayari,2,Shubhkamna,1,Smile SMS,1,SMS,1,Sorry shayari,2,Status,6,Story,1,Urdu Shayari,2,Valentine,2,Vikram Samvant,1,
ltr
item
Love Shayari in Hindi – Top Collection of Romantic Love Shayari: 500+ Best Dosti Shayari in Hindi and English | हिंदी दोस्ती शायरी
500+ Best Dosti Shayari in Hindi and English | हिंदी दोस्ती शायरी
Best dosti shayari in Hindi The best collection of friendship shayari. Wish and share with your friend with best available quotes and images
https://1.bp.blogspot.com/-i_kMSE4QQ_0/W8DzqG2GiEI/AAAAAAAABXc/jsqNk2YDfuERqY_tMVetxEfKMXTQSc3awCLcBGAs/s1600/Friends-forever-friendship-day1.jpg
https://1.bp.blogspot.com/-i_kMSE4QQ_0/W8DzqG2GiEI/AAAAAAAABXc/jsqNk2YDfuERqY_tMVetxEfKMXTQSc3awCLcBGAs/s72-c/Friends-forever-friendship-day1.jpg
Love Shayari in Hindi – Top Collection of Romantic Love Shayari
https://www.loveshayarihindi.com/2018/10/best-dosti-shayari.html
https://www.loveshayarihindi.com/
https://www.loveshayarihindi.com/
https://www.loveshayarihindi.com/2018/10/best-dosti-shayari.html
true
2811261531704455004
UTF-8
Loaded All Posts Not found any posts VIEW ALL Readmore Reply Cancel reply Delete By Home PAGES POSTS View All RECOMMENDED FOR YOU LABEL ARCHIVE SEARCH ALL POSTS Not found any post match with your request Back Home Sunday Monday Tuesday Wednesday Thursday Friday Saturday Sun Mon Tue Wed Thu Fri Sat January February March April May June July August September October November December Jan Feb Mar Apr May Jun Jul Aug Sep Oct Nov Dec just now 1 minute ago $$1$$ minutes ago 1 hour ago $$1$$ hours ago Yesterday $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago more than 5 weeks ago Followers Follow THIS CONTENT IS PREMIUM Please share to unlock Copy All Code Select All Code All codes were copied to your clipboard Can not copy the codes / texts, please press [CTRL]+[C] (or CMD+C with Mac) to copy